ताज़ा खबर
 

एच1एन1 इन्फ्लुएंजा के कारण चार महीनों में केरल में 40 लोगों की मौत

स्वास्थ्य मंत्री के के शैलेजा ने आज बताया कि इस साल जनवरी से 2,349 लोगों में एच1एन1 की जांच की गयी जिनमें से करीब 500 लोगों को इससे ग्रस्त पाया गया।

Author तिरुवनंतपुरम | May 22, 2017 4:36 PM
(File Photo)

स्वास्थ्य मंत्री के के शैलेजा ने आज बताया कि इस साल जनवरी से 2,349 लोगों में एच1एन1 की जांच की गयी जिनमें से करीब 500 लोगों को इससे ग्रस्त पाया गया। अब तक 40 लोगों की मौत हो गयी है। मंत्री ने राज्य में एच1एन1 सहित विभिन्न प्रकारों के बुखार के प्रसार को लेकर चर्चा की मांग पर एक प्रस्ताव के जवाब में विधानसभा में यह बात कही। उन्होंने बताया कि सरकार विभिन्न प्रकार के बुखार के प्रसार को रोकने के लिए सभी उपाय कर रही है। सभी सरकारी अस्पतालों में दवाएं उपलब्ध है।

मंत्री ने बताया कि एच1एन1 से मरने वाले व्यक्ति अन्य बीमारियों से भी ग्रस्त थे। उन्होंने बताया कि दक्षिण भारत में एच1एन1 के मामलों में काफी बढ़ोतरी देखने को मिली है। प्रस्ताव के लिए नोटिस की मांग करते हुये वी एस शिवकुमार (कांग्रेस) ने आरोप लगाया था कि सरकार एच1एन1 और डेंगू के प्रसार और स्थिति से निपटने में असफल रही है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी के खिलाफ पोक्सो की विभिन्न धाराओं के साथ ही आईपीसी की धारा 376 के तहत मामला दर्ज किया गया है।
शहर के पुलिस आयुक्त स्पर्जन कुमार ने कहा कि महिला के अभिभावकों ने आरोप लगाया कि हरीस्वामी ने उन्हें लाखों रूपयों का चूना भी लगाया। उन्होंने कहा, हालांकि उन्हें अब भी लिखित में कोई शिकायत नहीं दी है। इसलिये, अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गयी है।

यह पूछे जाने पर कि मीडिया में ऐसी खबरें आईं जिनके मुताबिक मां को अपनी बेटी के साथ होने वाले गलत काम की खबर थी, कुमार ने कहा कि युवती ने अपनी मां के खिलाफ अब तक कोई बयान नहीं दिया है। उन्होंने उन खबरों को भी खारिज कर दिया कि घटना के सिलसिले में युवती की मां को हिरासत में लिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App