ताज़ा खबर
 

‘बंदूक का लाइसेंस चाहिए तो गौशाला में देने होंगे 10 कंबल’, ठंड से गायों को बचाने के लिए DM का फरमान

कलेक्टर चौधरी ने छह महीने पहले आदेश दिया था कि बंदूक का लाइसेंस चाहने वालों को 10 पौधे लगाने होंगे। उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी लेने के साथ पौधों के फोटो आवेदन के साथ देने भी होंगे।

Author ग्वालियर | Updated: December 15, 2019 4:48 PM
प्रतीकात्मक फोटो (सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में बंदूक का लाइसेंस लेने के लिए एक अजीबों गरीब शर्त रखने की बात सामने आई है। बता दें कि जिले के कलेक्टर ने यह शर्त रखी है कि लाइसेंस चाहने वालों को ग्वालियर की सरकारी गौशाला के लिए 10 कंबल देने होंगे। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने शनिवार (14 दिसंबर) को ग्वालियर की लाल टिपारा और गोला का मंदिर स्थित गौशाला का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने यह घोषणा की थी। बता दें कि इससे पहले कलेक्टर ने बंदूक लेने वालों को पौधे लगाने की बात कही थी।

क्या है पूरा मामलाः निरीक्षण के बाद कलेक्टर चौधरी ने बताया कि गौशाला में गायों को ठंड से बचाने के लिए यह तय किया गया है कि यदि किसी को बंदूक का लाइसेंस चाहिए तो उसे गौशाला को 10 कंबल देने होंगे। संबंधित विभाग के अधिकारियों को इस संबंधी निर्देश भी दे दिए गए हैं। इससे गायों को ठंड से बचाया जाएगा और उनकी सुरक्षा भी होगी।

Hindi News Today, 15 December 2019, Hindi Samachar LIVE Updates: आज की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

लाइसेंस लेने वालों के लिए पौधे लगाने का लगाया था शर्त- कलेक्टरः उल्लेखनीय है कि कलेक्टर चौधरी ने छह महीने पहले आदेश दिया था कि बंदूक का लाइसेंस चाहने वालों को 10 पौधे लगाने होंगे। उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी लेने के साथ पौधों के फोटो आवेदन के साथ देने भी होंगे। कलेक्टर ने इस अवधि में बंदूकों के करीब 147 लाइसेंस जारी किए और इस दौरान करीब 1700 पौधे भी लगाए गए थे। इस शर्त की कामयाबी को देखते हुए गायों के लिए कंबल देने का नया शर्त रखा है।

8000 गायों को मिलेगा कंबलः गोला का मंदिर स्थित गौशाला में पिछले हफ्ते ठंड से छह गायों की मौत हुई थी। इसके बाद कलेक्टर चौधरी ने वहां की व्यवस्थाओं का निरीक्षण करके रेड क्रॉस की ओर से तीन लाख रुपए की धनराशि गौशाला को दी थी। यह देखते हुए कलेक्टर ने यह शर्त निकाली है ताकि गायों की रक्षा हो सके। बता दें कि इस समय ग्वालियर में नगर निगम की दो गौशालाएं, गोला का मंदिर और लाल टिपारा में हैं और इनमें करीब 8,000 गाएं हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 CM उद्धव ठाकरे, प्लीज मेरे पिता की सैलरी बढ़ा दीजिए; 6 साल की मासूम ने लिखा लेटर
ये पढ़ा क्या?
X