गुरुग्रामः बजरंग दल के लोगों ने डाला नमाज में अड़ंगा, पुलिस के सामने हुई नारेबाजी, अगले शुक्रवार को लेकर दी धमकी

प्रदर्शनकारियों ने सुरक्षाकर्मियों की भारी तैनाती के बीच ‘जय श्री राम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए।

Gurugram
उग्र भीड़ में कथित तौर पर बजरंग दल के कार्यकर्ता भी थे, जिन्होंने जय श्री राम के नारे लगाए और नमाज को बाधित किया। (Express photo)

पवनीत सिंह चड्ढा

हरियाणा के गुरुग्राम में नमाज पढ़ने को लेकर तनाव की बात सामने आ रही है। यहां के सेक्टर 12-A की एक निजी संपत्ति में शुक्रवार को शांतिपूर्ण तरीके से नमाज पढ़ी जा रही थी, तभी एक उग्र भीड़ वहां पर आई और विवाद जैसी स्थिति बन गई।

इस उग्र भीड़ में कथित तौर पर बजरंग दल के कार्यकर्ता भी थे, जिन्होंने जय श्री राम के नारे लगाए और नमाज को बाधित किया। इस भीड़ में करीब 30 प्रदर्शनकारियों के होने की बात सामने आ रही है।

प्रदर्शनकारियों ने सुरक्षाकर्मियों की भारी तैनाती के बीच ‘जय श्री राम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि बाहरी लोगों द्वारा अवैध रूप से नमाज अदा की जा रही है।

बता दें कि इससे पहले गुरुग्राम के सेक्टर 47 में भी बीते महीने स्थानीय लोगों को एक जगह पर नमाज अदा करने को लेकर आपत्ति थी। हालांकि वो मामला शांति से सुलझा लिया गया। लेकिन इस बार सेक्टर 12-A में जो स्थिति बनी है, उससे इलाके में तनाव है।

प्रदर्शनकारियों ने पुलिस से ये भी कहा है कि अगर अगले शुक्रवार को उसी स्थान पर नमाज अदा की जाती है और कोई दुर्भाग्यपूर्ण घटना होती है, तो इसके लिए प्रशासन जिम्मेदार होगा।

पुलिस सूत्रों और जिला प्रशासन के अधिकारियों का कहना है कि एक और जगह नमाज बाधित होने के बाद सेक्टर 12 में नमाज करने की जगह को यहां के निवासियों की सहमति से ही चुना गया था।

ये उन 37 जगहों में से एक है, जिसे 18 मई 2018 को प्रशासन ने शुक्रवार की नमाज के लिए चुना था। दोनों सुमदायों के सदस्यों से बातचीत के बाद ऐसा हुआ था। पुलिस का कहना है कि यहां बीते एक साल से बिना रुकावट के नमाज पढ़ी जा रही है।

हालांकि प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि प्रशासन द्वारा दी गई अनुमति केवल एक दिन के लिए थी और इस आधार पर सशर्त थी कि स्थानीय निवासियों को कोई आपत्ति नहीं होगी।

शुक्रवार को पुलिस को दी गई एक लिखित शिकायत में राजीव नगर के एक निवासी ने दावा किया है कि कुछ समय से जो लोग आसपास के इलाकों से नहीं हैं, वो भी सेक्टर 12 ए चौक पर नमाज अदा कर रहे थे।

प्रदर्शनकारियों द्वारा हस्ताक्षरित लेटर में ये भी दावा किया गया है कि उन्हें संदेह है कि ये लोग रोहिंग्या हैं या बांग्लादेश से हैं। उनकी आईडी की जांच की जाए और एक लिखित सूची तैयार की जाए। इलाके के निवासी इस मुद्दे को लेकर आक्रोशित हैं और यह मुद्दा हिंसा में बदल सकता है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
क‍िसी भी स्‍मार्टफोन में ये समस्‍याएं हैं आम, ऐसे कर सकते हैं समाधान
अपडेट