Gurmeet ram rahim wants to give lecture from jail and a plea filed to haryana high court - जेल में बैठकर प्रवचन देना चाहता है रेप का दोषी राम रहीम - Jansatta
ताज़ा खबर
 

जेल में बैठकर प्रवचन देना चाहता है रेप का दोषी राम रहीम

जाब और हरियाणा हाई कोर्ट में एक याचिका दाखिल कर राम रहीम ने जेल से ही भाषण देने की इजाजत मांगी है। मालवा इंसा फॉलोअर्स डेरा सच्चा सौदा एसोसिएशन बठिंडा की तरफ से यह याचिका हाई कोर्ट में दायर की गई है।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम इस वक्त साध्वियों के यौन शोषण मामले में 20 साल की सजा काट रहा है। राम रहीम भले ही जेल में बंद है, लेकिन वह अपने अनुयायियों को प्रवचन देना चाहता है। पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट में एक याचिका दाखिल कर राम रहीम ने जेल से ही भाषण देने की इजाजत मांगी है। उसने प्रवचन देने के लिए व्यवस्था कराने का भी अनुरोध कोर्ट से किया है। मालवा इंसा फॉलोअर्स डेरा सच्चा सौदा एसोसिएशन बठिंडा की तरफ से यह याचिका हाई कोर्ट में दायर की गई है।

इस याचिका में डेरा के पूर्व प्रमुख सतनाम सिंह जी महाराज के जन्म दिवस के मौके पर 25 जनवरी के दिन राम रहीम को जेल से प्रवचन देने की इजाजत मांगी गई है। इस मामले में कोर्ट 24 जनवरी को सुनवाई करेगा। याचिका में कोर्ट से इस मामले में हरियाणा सरकार और राज्य के अधिकारियों को निर्देश जारी करने का अनुरोध किया गया है। याचिकाकर्ता ने कहा है कि जेल से राम रहीम के लाइव प्रवचन को इंटरनेट पर प्रसारित करने की या प्रवचन की रिकॉर्डिंग करने की व्यवस्था की जाए और इस मामले में हरियाणा सरकार को उचित निर्देश दिया जाए।

साथ ही कोर्ट से यह भी मांग की गई है कि डेरा के अनुयायियों को साप्ताहिक या 15 दिनों में एक बार या फिर एक महीने पर राम रहीम का प्रवचने सुनने या देखने की व्यवस्था करने के लिए सरकार को निर्देश दिया जाए। इस याचिका में संविधान के अनुच्छेद 51A (d) का हवाला दिया गया है। वहीं डेरा के राजनीतिक धड़े ने राम रहीम के समर्थकों से कहा है कि वह बीजेपी नेता और सांसदों से मिलें और उन्हें बताएं कि डेरा के समर्थन के कारण ही वह राजनीति में हैं। बता दें कि राम रहीम को दो साध्वियों के यौन शोषण के मामले में दोषी करार देते हुए सीबीआइ की पंचकूला कोर्ट ने 20 साल की कैद का फैसला सुनाया था। साथ ही कोर्ट ने डेरा प्रमुख को दोनों मामलों में दस-दस साल की सजा और 15-15 लाख रुपए जुर्माना अदा करने को कहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App