ताज़ा खबर
 

नौकरों ने बुजुर्ग महिला को पीटा, कान काटकर निकालीं बालियां, हीरे की अंगूठी लिए तोड़ दी अंगुली

परिवार ने दावा किया कि पुलिस उनपर आरोप लगा रही है कि उन्होंने नौकरों का सत्यापन नहीं कराया।
Author गुड़गांव | March 23, 2016 12:49 pm
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है।

गुड़गांव के डीएलएफ फेज एक में लूट के दौरान दो घरेलू नौकरों द्वारा 60 साल की महिला को बुरी तरह पीटने और मुंह पर पट्टी बांधकर रखने की घटना के बाद पीड़िता और उनका परिवार सदमे में है। पीड़ित महिला के बेटे ध्रुव बंसल ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, “दोनों नौकरों (आरोपी) ने उन्हें बुरी तरह से पीटा। उनलोगों ने उनके (महिला के) ईयररिंग्स लेने के लिए कान काट दिए और हीरे की अंगूठी निकालने के लिए उनकी अंगुली तोड़ दी। आरोपियों ने उनके आंखों पर पट्टी बांध दी और उनके चेहरे पर वार किया। उनके चेहरे पर सूजन आ गई और उनके शरीर पर कई जगह चोट पहुंचाया। वह गहरे सदमे में हैं। वह इतनी डरी हुई हैं कि वह सो नहीं सकीं।”

पीड़िता के परिवार द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक, कमलेश घर के ग्राउंड फ्लोर पर अपने बीमार पति नंदलाल के साथ थी, जबकि उनकी बहू सांची फर्स्ट फ्लोर पर। नौकर सागर (25 साल) और शंकर (26 साल) ने कथित तौर पर उन्हें (पीड़िता को) कुछ दिखाने के लिए बाथरूम में बुलाया। फिर उनलोगों ने महिला को पीटा, उन्हें बांधा और बाथरूम के अंदर बंद कर दिया। आरोपियों ने उनकी आंखों पर पट्टी बांधी और 50 लाख के गहने लूट लिए।

पुलिस ने कहा, उनकी बहू ने कमलेश (पीड़िता) की चीख सुनी। वह नीचे की ओर दौड़ी और बाथरूम का दरवाजा खोला। परिवार ने दावा किया कि पुलिस उनपर आरोप लगा रही है कि उन्होंने नौकरों का सत्यापन नहीं कराया। परिवार ने भी पुलिस पर ठीक से जांच न करने का आरोप लगाया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.