ताज़ा खबर
 

सूरत: वैन में बछड़े ले जा रहे मुस्लिम युवक को ‘गौरक्षकों’ ने पीटा, मुंह से नहीं निकल रहे बोल

पीड़ित के हाथ और सिर पर कई जगह चोटें आई हैं। वहीं, पुलिस ने चारों हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और फिलहाल उन्हें पकड़ने के लिए लगातार दबिश दी जा रही है।

डंडे लिए युवक मुहीब को पहले ही दिख गए थे, मगर वह उनसे बच न सका। (एक्सप्रेस फोटोः जावेद राजा)

गुजरात के सूरत जिले में मंगलवार (12 जून) को कुछ लोगों ने एक मुस्लिम युवक की पिटाई कर दी। कारण- वह वैन में भर कर बछड़े ले जा रहा था, जबकि पिटाई करने वाले लोग उस दौरान कथित तौर पर गाय-बछड़ों की निगरानी कर रहे थे। पीड़ित ने इस बाबत पुलिस में शिकायत दी, जिस पर पिटाई करने वाले चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

पीड़ित की पहचान वलसाड शहर के मोटा ताइवान निवासी मुहीब अबू बकर के रूप में हुई है। शिकायत के अनुसार, मंगलवार को वह इश्रोली गांव में महुवा तालुका से छह बछड़ों को लेकर वैन से जा रहा था। आगे महुवा बरदोली रोड पर पेट्रोप पंप के पास उसे चार युवक मिले थे। वैन की रोशनी में उन चारों के हाथ में डंडे देख मुहीब ने भागने के बारे में सोचा, मगर वह बच न सका।

चारों अज्ञात युवकों ने उसे पकड़ा और जमकर डंडों से पीटा। घटना के दौरान उसे चोटें भी आई थीं। किसी तरह वह जान बचाकर गन्ने की खेत की तरफ भागा था, जहां से उसने सूरत के लिए ऑटो पकड़ा। बाद में पीड़ित वहां से न्यू सिविल हॉस्पिटल पहुंचा था। डॉक्टरों ने इस बारे में बरदोली पुलिस को सूचित किया, जिसके बाद मुहीब के बयान दर्ज किए गए और उन चारों अज्ञात युवकों के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई।

पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 324 और 114 के अंतर्गत मामला दर्ज किया है। घटनास्थल से इसी के साथ पीड़ित का वाहन भी बरामद कर लिया गया, मगर बछड़े लापता हैं। बरदोली पुलिस के सब इंस्पेक्टर ने बताया कि मुहीब की जान खतरे से बाहर है, मगर उसे हाथ और सिर पर कई जगह चोटें आई हैं। अधिक जानकारी इसलिए नहीं मिल पाई, क्योंकि वह अभी ठीक से बोल नहीं पा रहा है। आरोपियों को पकड़ने के लिए लगातार दबिश दी जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App