ताज़ा खबर
 

अहमद पटेल की जीत पर रो पड़ी थीं स्मृति ईरानी, अमित शाह ने मुश्किल से काबू की थीं अपनी भावनाएं

गुजरात राज्य सभा चुनाव 2017 में कांग्रेस के अहमद पटेल को तीसरी सीट पर जीत मिली।
उप राष्ट्रपति चुनाव के वक्त वोट डालतीं स्मृति ईरानी और मनमोहन सिंह।

गुजरात राज्य सभा चुनाव 2017 में कांग्रेस के अहमद पटेल को तीसरी सीट पर जीत मिली। इस खबर के आने के बाद बाकी दो सीटों पर जीत दर्ज करने वाले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता काफी दुखी हो गए थे। अहमद पटेल की जीत की खबर जैसे ही केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को मिली तो उनकी आंखों में आंसू आ गए थे। वह बीजेपी के उम्मीदवार बलवंत राजपूत के हारने से दुखी थीं। इतना ही नहीं बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने किसी तरह अपने आप पर काबू पाकर भाषण दिया। शाह ने उन सब विधायकों का शुक्रिया किया था जिन्होंने उनको वोट दिया। वैसे तो अब चुनाव के नतीजे आ चुके हैं। लेकिन अबतक साफ नहीं हुआ है कि आखिर किसने किसको वोट दिया।

जिन तीन विधायकों का दावा था कि उन्होंने कांग्रेस को वोट दिया है, अब लग रहा है कि उन्होंने असल में बीजेपी को वोट दिया था। इसमें एनसीपी के दो विधायक (जयंत पटेल और कंधल जाडेजा) और GPP पार्टी के नलिन कटोदिया शामिल हैं। ऐसा माना जा रहा है कि अहमद पटेल की जीत में अहम योगदान जनता दल युनाइटेड (जदयू) के विधायक छोटू वासवा का है। मजेदार बात यह है कि छोटू जिस कार में वोट डालने आए थे वह कथित तौर पर बीजेपी की थी और अमित शाह ने तो उनका स्वागत भी किया था।

जदयू ने हाल ही में बीजेपी के साथ मिलकर बिहार में सरकार बनाई है। जदयू नेता के सी त्यागी ने कहा था कि नीतीश ने छोटू से भाजपा उम्मीदवार को वोट डालने के लिए कहा था। लेकिन के सी त्यागी की इस बात पर गुजरात इकाई के लोग भड़क गए थे। जदयू के गुजरात प्रमुख ने कहा था कि के सी त्यागी होते कौन हैं? छोटू का जिसको मन होगा वोट डालेंगे।

यह बात कूमी कपूर ने अपने कॉलम में लिखी है।

देखिए संबंधित वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.