ताज़ा खबर
 

वडोदरा में गुरुग्राम जैसी वारदात: छात्र का कत्‍ल, स्‍कूल के बाथरूम में मिली लाश

प्राथमिक जांच में पुलिस को पता चला है कि कक्षा 10 में पढ़ने वाले एक बच्चे का गुरुवार को मृतक बच्चे के साथ झगड़ा हुआ था। इसी झगड़े की वजह से उसने अपने जूनियर छात्र पर जानलेवा हमला करके उसकी जान ले ली है। आरोपी छात्र अभी तक फरार बताया जा रहा है।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

गुजरात के वड़ोदरा में कक्षा 9 में पढ़ने वाले बच्चे की स्कूल के बाथरूम में चाकू मारकर हत्या कर दी गई है। ये घटना वड़ोदरा के बरनपोरा इलाके में बने श्री भारती विद्यालय में शुक्रवार (22 जून) की दोपहर को घटी। बच्चे की चाकू मारकर हत्या के मामले की खबर फैलते ही बड़ी संख्या में भीड़ स्कूल के बाहर जमा हो गई। बच्चे की चाकू मारकर हत्या की गई थी और उसकी लाश बाथरूम के फर्श पर पड़ी थी। वह कथित चाकू जिससे हत्या की गई, बाथरूम में ही बरामद किया गया है। प्राथमिक जांच में पुलिस को पता चला है कि कक्षा 10 में पढ़ने वाले एक बच्चे का गुरुवार को मृतक बच्चे के साथ झगड़ा हुआ था। इसी झगड़े की वजह से उसने अपने जूनियर छात्र पर जानलेवा हमला करके उसकी जान ले ली है। कक्षा 10 का वह आरोपी छात्र अभी तक पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया है और फरार बताया जा रहा है।

इस मामले में जांच अभी तक जारी है। पुलिस किसी भी नतीजे तक पहुंचने और कातिल की तलाश में मदद के लिए सीसीटीवी फुटेज का सहारा ले रही है। ये सारे सीसीटीवी स्कूल के परिसर में लगे हुए हैं। पुलिस के मुताबिक, मृतक लड़के ने हाल ही में स्कूल में दाखिला लिया था। मृतक बच्चे के परिजन गुजरात के आनंद जिले के रहने वाले थे। वह उसे वड़ोदरा में अच्छी शिक्षा दिलवाने के लिए अपने रिश्तेदारों के पास छोड़ गए थे।

इस घटना ने साल 2017 में गुरुग्राम मे रेयान स्कूल में मासूम प्रद्युम्न की हत्या की यादें ताजा कर दी हैं। इस घटना में भी स्कूल के भीतर ही मासूम की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी। सीबीआई ने प्रद्युम्न की हत्या की जांच की थी। सीबीआई ने बीते 8 जून को कक्षा 2 में पढ़ने वाले प्रद्युम्न की हत्या के लिए उसी स्कूल में पढ़ने वाले कक्षा 11 के छात्र को आरोपी बताया है। बीते 8 जून को सीबीआई ने अपनी 5,000 पन्नों की चार्जशीट गुरुग्राम के जिला एवं सत्र न्यायालय में दाखिल की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App