ताज़ा खबर
 

इस साध्वी के घर से मिले ₹2000 की नई करंसी के कुल 1.25 करोड़, 80 लाख के सोने की 24 छड़ और शराब की बोतलें

नोटबंदी के बाद नवंबर में आरोपी साध्वी ने 5 करोड़ रुपये मूल्य के सोने के बिस्कुट खरीदे थे लेकिन उसका बिल अब तक नहीं चुकाया था।

Demonetisation, RBI, Currency Notes, Notes Printing, RBI Note Printing, New Rupee Notes, Rs 500 Note, Rs 1000 Note, Rs 2000 Note, Govt Press, India, Jansattaतस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

उत्तरी गुजरात में एक साध्वी के घर से पुलिस ने 2000 रुपये के नए नोटों की बड़ी खेप बरामद की है। बरामद कुल 1.29 करोड़ रुपये नकदी में से 1.25 करोड़ रुपये सिर्फ 2000 के नए नोट हैं। इसके अलावा उस साध्वी के घर से लगभग 80 लाख रुपये मूल्य की 24 सोने की छड़ें बरामद की गई हैं। दरअसल, नोटबंदी के बाद नवंबर में आरोपी साध्वी ने 5 करोड़ रुपये मूल्य के सोने के बिस्कुट खरीदे थे लेकिन उसका बिल अब तक नहीं चुकाया था। जब पुलिस में इसकी शिकायत की गई तो पुलिस ने आरोपी साध्वी जयश्री गिरि को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। साध्वी जयश्री गिरि क ट्रस्ट की प्रमुख हैं, जो बनासकांठा में एक मंदिर का संचालन करता है।

एनडीटीवी के मुताबिक इसी सप्ताह एक स्थानीय जौहरी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि साध्वी बार-बार याद दिलाने के बावजूद उसके 5 करोड़ रुपये का भुगतान नहीं कर रही है। इसके बाद गुजरात पुलिस ने गुरुवार को 45-वर्षीय साध्वी के घर की तलाशी ली, जिसमें लगभग 80 लाख रुपये मूल्य की 24 सोने की छड़ें तथा 1.29 करोड़ रुपये की नकदी – जिनमें से 1.25 करोड़ रुपये 2,000 रुपये के नए नोटों के रूप में थे – बरामद की। गुजरात ड्राई स्टेट है, यानी यहां शराबबंदी है, लेकिन साध्वी के घर से शराब की बोतलें भी बरामद हुई हैं।

पुलिस अधिकारी के मुताबिक मामले में तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इस केस में साध्वी को मुख्य आरोपी बनाया गया है। दिसंबर में भी यह साध्वी विवादों में तब आई थीं जब उन्हें एक वीडियो में एक कार्यक्रम के दौरान 2,000 रुपये के नए नोटों की एक करोड़ रुपये की रकम गायकों पर उड़ाते देखा गया था। यह वीडियो सूरत के एक कार्यक्रम में शूट किया गया था।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 8 नवंबर को अचानक की गई नोटबंदी के फलस्वरूप उन दिनों देशभर में नकदी का जबर्दस्त संकट चल रहा था। लोगों के अपने पैसे सफेद कराने के लिए या नकदी निकालने के लिए बैंकों में लंबी-लंबी कतारें लगानी पड़ी थीं।

Next Stories
1 गुजरात: महिला ने दो नाबालिग बेटियों को जिंदा जलाया, एक की मौत
2 दलितों और अल्पसंख्यकों के बीच ‘पैदल चर्चा’ प्रोग्राम से इमेज चमकाने में जुटी अहमदाबाद पुलिस
3 गुजरात: सूरत में बिक रही 2000 रुपए के नोट की छपाई वाली साड़ी, मात्र 160 रुपए है कीमत
ये पढ़ा क्या?
X