ताज़ा खबर
 

बीजेपी की कलह पर हार्दिक पटेल की चुटकी- कांग्रेस में डिप्टी सीएम नितिन पटेल को दिलाएंगे उचित सम्मान

सोलंकी ने कहा "गुजरात के लाभ के लिए हम सरकार बना सकते हैं अगर हमें कुछ बीजेपी विधायकों और नितिन पटेल का समर्थन मिल जाए।"

Author अहमदाबाद | December 30, 2017 4:16 PM
पाटीदार नेता हार्दिक पटेल।

गुजरात विधानसभा चुनावों के बाद एक बार फिर से डिप्टी सीएम बने नीतिन पटेल को उनके मनमुताबिक विभाग न मिलने के कारण उनके और सूबे के सीएम के बीच तकरार की खबरें आ रही हैं। इसी बीच पाटीदार अनमत आंदोलन समीति के नेता हार्दिक पटेल ने राज्य सरकार पर चुटकी ली और नितिन पटेल को कांग्रेस में उचित पद और सम्मान दिलवाने की बात कही दी। शनिवार को हार्दिक पटेल ने उनके साथ शामिल होने के लिए नितिन पटेल को आमंत्रित किया है। मीडिया से बातचीत करते हुए हार्दिक पटेल ने कहा “बीजेपी द्वारा उनके अपने दिग्गज नेता को पार्टी में सम्मान नहीं दिया जा रहा है और सभी को उनके पक्ष में खड़ा होना चाहिए।”

हार्दिक ने कहा “नितिन पटेल हमें ज्वाइन कर सकते हैं अगर बीजेपी उन्हें सम्मान नहीं दे सकती तो उन्हें पार्टी छोड़ देनी चाहिए। उन्होंने पार्टी के लिए बहुत मेहनत की है।” इसके आगे हार्दिक ने कहा “अगर नितिन पटेल बीजेपी छोड़ने के लिए तैयार हैं और वे अगर यह कहते हैं कि उनके साथ 10 विधायक भी बीजेपी छोड़ने के लिए तैयार हैं तो हम उनका समर्थन करेंगे। मैं उनके लिए कांग्रेस में बात करुंगा और कहूंगा कि वे नितिन पटेल को पार्टी में उचित पद दें।” वहीं इस मामले पर कांग्रेस का कहना है कि आनंदीबेन पटेल के बाद अब नितिन पटेल के बीजेपी नेतृत्व को निशाना बनाया जा रहा है।

राज्य कांग्रेस अध्यक्ष भारतसिंह सोलंकी ने कहा “कांग्रेस परिस्थितियों को देख रही है। पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के बाद बीजेपी अब नितिन पटेल के बीजेपी नेतृत्व को निशाना बनाया जा रहा है। गुजरात के लाभ के लिए हम सरकार बना सकते हैं अगर हमें कुछ बीजेपी विधायकों और नितिन पटेल का समर्थन मिल जाए।” आपको बता दें कि नितिन पटेल के अलावा वडोदरा के विधायक राजेन्द्र त्रिवेदी भी पार्टी नेतृत्व से नाराज हैं इस वजह है वडोदरा से किसी भी विधायक का कैबिनेट में शामिल नहीं किया जाना। इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक भड़के राजेन्द्र त्रिवेदी ने 10 विधायकों के साथ पार्टी छोड़ने की धमकी दी है। कुछ ऐसी ही धमकी दक्षिण गुजरात के नेताओं ने पार्टी आलाकमान को दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App