ताज़ा खबर
 

गुजरात: नरेंद्र मोदी सरकार की उपलब्धियां गिना रहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर किसान ने फेंकी चूड़ियां

स्मृति ईरानी ने पुलिसवालों से कहा कि जो चूड़ियां ये मुझपर फेंक रहा है मैं उसे बटोरकर इसकी पत्नी को उपहार के तौर पर भेज दूंगी।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी।

गुजरात में केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी पर चूड़ियां फेंकने का मामला सामने आया है। दरअसल मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने के अवसर पर सरकार के मंत्री देश भर में घूमकर सरकार की उपलब्धियां गिना रहे हैं। इसी कड़ी में स्मृति ईरानी सोमवार को गुजरात के अमरेली शहर में एक कार्यक्रम को संबोधित करने पहुंची थीं। बताया जा रहा है कि कार्यक्रम के बीच में एक किसान उठकर कर्ज माफी की मांग करने लगा। अपनी मांग को दोहराते हुए उसने स्मृति ईरानी पर चूडियां भी फेकीं। इस शख्स का नाम केतन कासवाला है। कासवाला को पुलिस ने गिरफ्तार कर हिरासत में ले लिया।

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि केतन कासवाला को बाद में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने खुद पुलिस को निर्देश देते हुए रिहा करा दिया। स्मृति ने पुलिस से ये भी कहा कि कासवाला को कार्यक्रम में हिस्सा लेने दिया जाए और अगर वह चूड़ियां फेंक रहा है तो उसे वो भी करने दिया जाए। स्मृति ईरानी ने पुलिसवालों से कहा कि जो चूड़ियां ये मुझपर फेंक रहा है मैं उसे बटोरकर इसकी पत्नी को उपहार के तौर पर भेज दूंगी। इस घटना को केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस की हरकत बताते हुए कहा -कांग्रेस पार्टी वालों ने एक पुरुष ने महिला पर चूड़ियां फेंकने के लिए भेजा है। गुजरात में चुनाव आने वाले हैं इसलीए कांग्रेस पार्टी इस तरह की हरकतों को अंजाम दे रही है।

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों से देश के कई राज्यों में किसान कर्ज माफी को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। मध्य प्रदेश में आंदोलन के दौरान पुलिस की गोली लगने से 5 किसानों की मौत भी हो गई थी, जिसके बाद माहौल काफी तनावपूर्ण हो गया था। इस दुखद घटना के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अनशन पर भी बैठे थे। किसानों में कर्जमाफी के लिए बढ़ते रोष को देखते हुए कई राज्यों के मुख्यमंत्री इसपर विशेष रणनीति बना रहे हैं। इसी रणनीति के तहत सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात भी की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App