ताज़ा खबर
 

गुजरात चुनाव: ISIS से लिंक के आरोपी संगठन से दलित नेता जिग्नेश मेवानी ने लिया चेक?

SDPI, PFI का राजनीतिक फ्रंट है। ये संगठन खासकर केरल में सक्रिय है। इन संगठनों पर सीरिया के आतंकी संगठन ISIS से लिंक का आरोप है

दलित नेता जिग्नेश मेवाणी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को समर्थन कर रहे हैं। (Express photo)

गुजरात चुनाव की कद्दावर तिकड़ी में से एक जिग्नेश मेवाणी पर एक विवादित संगठन से चेक लेने की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। इन तस्वीरों में दलित नेता जिग्नेश मेवाणी सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) के एक नेता से कथित रूप से चेक लेते नजर आ रहे हैं। हालांकि तस्वीर से अबतक ये साफ नहीं हो पाया है कि उन्होंने ये चेक क्यों लिया था। बता दें कि SDPI, PFI का राजनीतिक फ्रंट है। ये संगठन खासकर केरल में सक्रिय है। इन संगठनों पर सीरिया के आतंकी संगठन ISIS से लिंक का आरोप है, NIA इस मामले की जांच कर रही है। टाइम्स नाउ की एक रिपोर्ट के मुताबिक SDPI ने इस बात को स्वीकार किया है कि उसने मेवाणी को चेक दिया है, लेकिन चेक के माध्यम से रकम कितनी दी गई है इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है। SDPI से जुड़े कर्नाटक के अबरार अहमद ने मेवाणी के साथ मीटिंग की बात भी स्वीकार की है। बता दें कि गुजतार विधानसभा चुनाव में जिग्नेश मेवाणी कांग्रेस का समर्थन कर रहे हैं।

बता दें कि PFI ने केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक में अपनी अच्छी खासी मौजूदगी दर्ज कराई है। एनआईए को शक है कि ये संगठन ISIS के लिए भारत से कैडर की नियुक्ति करता है। कई संगठन PFI को प्रतिबंधित करने की मांग कर चुके हैं। केरल में इस संगठन पर सशस्त्र ट्रेनिंग कैंप चलाने का आरोप है।गुजरात के सीएम विजय रुपाणी ने कहा है कि राष्ट्रविरोधी ताकतें गुजरात चुनाव में जोरदार फंडिंग कर रही हैं। जिग्नेश मेवाणी ने अब तक इस आरोप पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

इससे पहले जिग्नेश मेवाणी ने बीजेपी पर गुजरात चुनाव में प्रचार के दौरान हमले करवाने का आरोप लगाया था। 5 दिसंबर को मेवाणी ने ट्वीट कर लिखा,’मैं भी गुजरात का बेटा हूं, मोदी जी दिल बड़ा रखा करो छाती भले 56 इंच की हो न हो। जो जीत रहा हो उस पर हमला करवाओ, ये आईडिया आपका है या अमित शाह का क्योंकि ये गुजरात की तो परंपरा है नही।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App