ताज़ा खबर
 

सूरत: 11 साल की बच्‍ची की लाश पर मिलीं 86 चोटें, बलात्‍कार की आशंका

सूरत के सिविल अस्‍पताल के फोरेंसिक हेड गणेश गोवेकर ने कहा कि बच्‍ची के शरीर पर अधिकतर चोटें किसी लकड़ी के हथियार से की गई प्रतीत होती हैं। उन्‍होंने यह भी कहा कि अंत में बच्‍ची का गला घोंट दिया गया।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

कठुआ और उन्‍नाव गैंगरेप कांड पर देशभर में रोष के बीच सूरत से एक और भयावह घटना की खबर आई है। यहां एक 11 वर्षीय बच्‍ची की चोटों से भरी लाश मिली है। समाचार एजंसी एएनआई के अनुसार, बच्‍ची के निजी अंगों को भी नुकसान पहुंचा है। अनुमान है कि बच्‍ची को गला घोंटकर मारने से पहले कम से कम एक सप्‍ताह तक यातनाएं दी गईं थीं क्‍योंकि उसके शरीर पर 1 दिन से लेकर 7 दिन पुराने घाव हैं। बच्‍ची के साथ बलात्‍कार की आशंका जताई जा रही है, ऐसे में सैम्‍पल्‍स लेकर जांच के लिए फोरेंसिक विभाग को भेज दिए गए हैं।

सूरत के सिविल अस्‍पताल के फोरेंसिक हेड गणेश गोवेकर ने कहा कि बच्‍ची के शरीर पर अधिकतर चोटें किसी लकड़ी के हथियार से की गई प्रतीत होती हैं। उन्‍होंने यह भी कहा कि अंत में बच्‍ची का गला घोंट दिया गया। उन्‍होंने कहा, ”पोस्‍टमॉर्टम करने पर हमें उसके शरीर पर कई घाव मिले जो 1 से लेकर 7 दिन तक पुराने थे। बच्‍ची के शरीर पर 86 बाहरी घाव मिले।”

बच्‍ची की लाश 6 अप्रैल को सूरत के भेस्‍तन इलाके में मिली थी, मगर पुलिस अभी तक उसकी शिनाख्‍त नहीं कर सकी है। पुलिस अधिकारी केबी झाला ने कहा, ”11 वर्षीय बच्‍ची का शव सुबह 6 के आसपास एक क्रिकेट ग्राउंड के पास की सड़क पर मिला था। वहां मॉर्निंग वॉक पर आए लोगों ने इसकी जानकारी दी… हम लड़की की पहचान करने करने की कोशिश कर रहे हैं।”

कठुआ और उन्‍नाव की घटनाओं पर जनाक्रोश के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार (13 अप्रैल) को चुप्‍पी तोड़ी। उन्‍होंने कहा कि ऐसी घटनाओं से देश शर्मसार हुआ है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि दोनों मामलों में न्याय होगा और दोषी बच नहीं पाएंगे। मोदी ने कहा, “देश में जिन घटनाओं पर पिछले दो दिनों से चर्चा हो रही है, वे सभ्य देश के लिए अच्छा नहीं हैं। यह शर्मनाक है।”

कठुआ के रसाना जंगल में घोड़ों को चराते समय आठ साल की एक बच्ची लापता हो गई थी। एक सप्ताह बाद दुष्कर्म के बुरे हालात में उसका शव बरामद हुआ था। जांच में पता चला कि उसे एक मंदिर में बंदी बनाकर रखा गया और नशीली दवा पिलाकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया गया और आखिर में उसकी हत्या कर दी गई।

वहीं, उन्नाव में एक 17 साल की लड़की के साथ कथित तौर पर भारतीय जनता पार्टी के विधायक कुलदीप सेंगर ने दुष्कर्म किया। उनका नाम केंद्रीय जांच ब्यूरो द्वारा दर्ज एफआईआर में दर्ज है। शनिवार को उन्‍हें 7 दिन की सीबीआई हिरासत में भेज दिया गया। यह घटना तब प्रकाश में आई, जब पीड़‍िता ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास के सामने 8 अप्रैल को खुद को आग के हवाले करने की कोशिश की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App