Congress Vice president Rahul Gandhi speaks in Gandhi Nagar, GST means Gabbar Singh Tax - गांधीनगर में बोले राहुल गांधी- इनकी जीएसटी 'गब्बर सिंह टैक्स' है - Jansatta
ताज़ा खबर
 

गांधीनगर में बोले राहुल गांधी- इनकी जीएसटी ‘गब्बर सिंह टैक्स’ है

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने 30-35 हजार करोड़ रुपये नैनो बनाने के लिए दिए हैं लेकिन इतने पैसे से गुजरात के किसानों का कर्ज माफ हो सकता था ।

गांधी नगर में जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी। (फोटो- ANI)

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र की बीजेपी सरकार की आर्थिक नीतियों की आलोचना की है और पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा है कि इनकी जीएसटी कांग्रेस द्वारा प्रस्तावित जीएसटी नहीं है बल्कि इनकी जीएसटी ‘गब्बर सिंह टैक्स’ है। राहुल ने गांधीनगर में आयोजित नवसर्जन जनादेश महासम्मेलन में आरोप लगाया कि केंद्र सरकार देशभर में टैक्स टेररिज्म फैला रही है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने 30-35 हजार करोड़ रुपये नैनो बनाने के लिए दिए हैं लेकिन इतने पैसे से गुजरात के किसानों का कर्ज माफ हो सकता था मगर बीजेपी सरकार ने किसानों की कराह नहीं सुनी। राहुल ने नोटबंदी के लेकर भी पीएम मोदी पर निशाना साधा।

भारी भीड़ को देखकर गदगद हुए राहुल गांधी ने कहा कि सरकार का काम युवाओं को रोजगार देने का होता है लेकिन गुजरात के युवा पूरे राज्य में आंदोलन कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि गुजरात में सिर्फ पांच-छह उद्योगपतियों की सरकार है। उन्होंने कहा कि मोदी जी मेक इन इंडिया का नारा देते हैं लेकिन उनके ही राज्य में करीब 30 लाख युवक बेरोजगार हैं। उन्होंने ताना मारा कि क्या इस हालत में मोदी जी चीन का मुकाबला कर पाएंगे?

इससे पहले ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल हुए। राहुल ने उनकी तारीफ करते हुए कहा कि इनमें जोश है, ताकत है। इसलिए ऐसे युवा शांत नहीं बैठ सकते हैं। उन्होंने मंच से पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल का भी नाम लिया। उन्होंने कहा कि ये लोग गुजरात की आवाज हैं। ये मामूली आवाज नहीं है, इस आवाज को न दबाया जा सकता है और न खरीदा जा सकता है। राहुल ने कहा कि अहर हिन्दुस्तान के पूरे बजट का पैसा लगा दीजिए या पूरी दुनिया का पैसा लगा दीजिए तब भी कोई गुजरात की आवाज नहीं खरीद सकता। राहुल ने कहा कि गुलाम भारत में सुपर पॉवर कहलाने वाले अंग्रेजों ने इसी गुजरात में गांधी जी की आवाज दबाने की कोशिश की थी लेकिन सफल नहीं हो सके थे।

गौरतलब है कि गुजरात में दो दशक से भी अधिक समय से बीजेपी का राज है। वहां कांग्रेस 22 सालों से सत्ता से दूर है। इस लिहाज से कांग्रेस सत्ता में वापसी के लिए पूरे जोर आजमाइश कर रही है। इधर बीजेपी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और पीएम मोदी के लिए भी गुजरात चुनाव नाक की लड़ाई बन गया है। बीजेपी हर हाल में गुजरात फतह करना चाह रही है लेकिन हाल के दिनों में मोदी सरकार के खिलाफ बन रहे माहौल से वो चिंतित है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App