scorecardresearch

गुजरात में बेरोज़गारी का आलम: मनरेगा से भी कम वेतन वाले 9902 पद के लिए आए 50 हजार आवेदन

गुजरात में बेरोजगारी बढ़ रही है, तभी तो 230 रुपये प्रतिदिन वेतन वाली नौकरी के लिए इतनी भीड़ आई कि पुलिस को लाठीचार्ज तक करना पड़ गया।

Gram Rakshak Dal, Gujarat police, gujarat unemployment
गुजरात में 27 नंवबर को 650 पोस्‍ट के लिए 6500 उम्‍मीदवार आ गए थे। Photo Credit: Vibhav Jha (Indian Express)

वैभव झा

गुजरात में ‘ग्राम रक्षक दल’ की पोस्‍ट पर काम करने वालों को 230 रुपये प्रत‍िदिन के हिसाब से वेतन दिया जा रहा है। ‘ग्राम रक्षक दल’ के पद पर काम करने वालों को 8 घंटे की ड्यूटी के बाद MNREGA से भी 69 रुपये कम मिलता है। इतना कम पैसा मिलने के बाद भी अक्‍टूबर 2021 में ‘ग्राम रक्षक दल’ की 9,902 पोस्‍ट के लिए करीब 50,000 आवेदन आए। इसके पीछे अहम कारण हैं- कोरोना के कारण पैदा हुई बेरोजगारी और सरकारी नौकरियों में आई कमी।

इंडियन एक्‍सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, बनासकांठा में पालनपुर पुलिस ट्रेनिंग ग्राउंड पर 27 नवंबर को ‘ग्राम रक्षक दल’ की पोस्‍ट पर भर्ती का एक वीडियो भी वायरल हुआ था, जिसमें 650 पदों के लिए करीब 6,500 उम्‍मीदवार आ गए थे। भीड़ इतनी हो गई थी कि पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था।

‘ग्राम रक्षक दल’ की पोस्‍ट पर भर्ती के लिए आए उम्‍मीदवारों में इकबालगढ़ गांव का रहने वाला 21 साल का एक लड़का भी था। उसने 8 क्‍लास के बाद भी स्‍कूल छोड़ दिया। किसी एग्‍जाम में उसका यह पहला अटैम्‍प्‍ट था। लड़के ने बताया, ”मैंने 17 साल की उम्र में दिहाड़ी मजदूरी पर काम करना शुरू कर दिया था, ताकि मैं अपने परिवार को सपोर्ट कर सकूं। लेकिन लॉकडउन के बाद दो साल से ज्‍यादा मैं खाली बैठा रहा। मेरे पास कोई काम नहीं था।”

लड़के ने बताया, ‘जब मैं दिहाड़ी मजदूरी करता था तब ‘ग्राम रक्षक दल’ की पोस्‍ट पर मिलने वाले 230 रुपये प्रत‍िदिन से कहीं ज्‍यादा कमा लेता था। लेकिन मैं पुलिस की वर्दी पहनना चाहता हूं, क्‍योंकि यह सम्‍मान की बात है।’

भर्ती के लिए आए एक और 30 वर्षीय उम्‍मीदवार ने बताया कि वह ट्रक ड्राइवर था और इससे कहीं ज्‍यादा कमा लेता था। वह राजस्‍थान से गुजरात के बीच ट्रक चलाया करता था। मैं ट्रक चलाकर एक दिन में 600 से 700 रुपये कमा लेता था, लेकिन पुलिस वैन चलाना उससे कहीं बेहतर है।”

गुजरात में रोजगार की स्थिति क्‍या है?

इस समय गुजरात सरकार पुलिस सब-इंस्‍पेक्‍टर, इंटेलिजेंसी अफसर, असिस्‍टेंट सब इंस्‍पेक्‍टर, लोक रक्षक दल और होम गार्ड के पदों पर भर्ती कर रही है। लोक रक्षक दल के 10,000 पदों के लिए गुजरात सरकार के पास 8.86 लाख आवेदन आए हैं। इसमें उम्‍मीदवार कम से कम 12वीं पास होना चाहिए, इसमें फिजिकल टेस्ट के साथ लिखित परीक्षा भी देनी होती है। गुजरात सरकार ने होम गार्ड की 6700 पोस्‍ट भी निकाली हैं, जिनके लिए 36,000 आवेदन आए हैं।

गुजरात के लेबर डिपार्टमेंट के आंकड़ों के मुताबिक, अकेले बनासकांठा जिले में 88,933 लोग असंगठित सेक्‍टर में काम करने वालों के तौर रजिस्‍टर्ड हैं। इनमें से 87.39 प्रतिशत लोगों की आय 10,000 रुपये महीने से भी कम है। ग्राम रक्षक दल के पद पर भर्ती के दौरान उम्‍मीदवारों की भीड़ बेकाबू होने की घटना बनासकांठा में ही हुई थी।

‘ग्राम रक्षक दल’ के वॉलंटियर्स गुजरात पुलिस के एसपी के अंडर आते हैं। इनकी तैनाती सभी 33 जिलों में की जाती है। ये गुजरात पुलिस को नाइट पेट्रोलिंग, बंदोबस्‍त और भीड़ नियंत्रण करने जैसे कार्यों में मदद करते हैं। किसी भी गांव कोई भी व्‍यक्ति, जिसकी उम्र 20 से 50 के बीच हो, वह इस पद के लिए एप्‍लाई कर सकता है। हां, उम्‍मीदवार को इसके लिए फिजिकल टेस्ट देना होता है, जिसमें 800 मीटर का रनिंग टेस्‍ट भी शामिल है। इसमें पुरुषों को 4 मिनट और महिलाओं को 5.30 मिनट का टाइम दिया जाता है। इसके अलावा वजन और लंबाई भी नापी जाती है। इस पद पर काम करने वालों को पेंशन, बोनस और मेडिकल जैसी सुविधाएं नहीं मिलती हैं।

पढें गुजरात (Gujarat News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.