ताज़ा खबर
 

पत्नी से हुई लड़ाई तो गुस्साए पति ने कुत्ते के बच्चे को बिल्डिंग से फेंका, केस दर्ज

मामले की जांच कर रहे हेड कॉन्स्टेबल मनोज राठौड़ ने कहा कि नेहा पटेल की शिकायत के आधार पर हमने त्रिवेदी को गिरफ्तार करने की प्रक्रिया शुरू की है।
Author वडोदरा | March 7, 2017 18:48 pm
ट्रंप नाम के गायब कुत्ते को ढूंढने में लगी पुलिस। (Representative Image)

गुजरात के वडोदरा में एक शख्स के खिलाफ पत्नी से झगड़ा होने के बाद कुत्ते के बच्चे को फेंकने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है। आरोपी की पहचान अजय त्रिवेदी के रूप में हुई है और वह सुभानपुरा क्षेत्र के सन हरि अपार्टमेंट में रहता है। पुलिस के मुताबिक त्रिवेदी पर आरोप है कि उसने दूसरे फ्लोर पर अपने अपार्टमेंट से कुत्ते के बच्चे को नीचे फेंक दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। यह घटना शनिवार रात 10 बजे की है। पुलिस ने कहा कि त्रिवेदी का पत्नी से झगड़ा हुआ था, जिसके बाद से वह परेशान था। उसने बिल्डिंग के कंपाउंड में एक छोटा सा पप्पी उठाया और उसे अपने अपार्टमेंट से नीचे फेंक दिया। त्रिवेदी की इस हरकत से गुस्साए पड़ोसियों ने इस बात की जानकारी जानवरों के अधिकार की लड़ाई लड़ने वाले समीर सोनी को दी और माफी मांगने को कहा। त्रिवेदी ने हाथ से लिखा हुआ माफीनामा पुलिस को दिया और दोबारा इस तरह का व्यवहार नहीं करने का वादा किया।

हालांकि इस घटना की जानकारी एक अन्य एनिमल एक्टिविस्ट नेहा पटेल को हो गई और उन्होंने सोमवार देर शाम त्रिवेदी के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया। नेहा पटेल, सोसाइटी फॉर द क्रूवेल्टी टू एनिमल्स, वडोदरा की सचिव हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह की क्रूरता के लिए सिर्फ क्षमायाचना काफी नहीं है। जैसे ही मुझे इस घटना की जानकारी मिली, मैंने तुरंत त्रिवेदी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। मैं आरोपी की ओर से सिर्फ माफी नहीं चाहती।

मामले की जांच कर रहे हेड कॉन्स्टेबल मनोज राठौड़ ने कहा कि नेहा पटेल की शिकायत के आधार पर हमने त्रिवेदी को गिरफ्तार करने की प्रक्रिया शुरू की है। त्रिवेदी के खिलाफ आईपीसी की धारा 4820 और पशु क्रूरता रोकथाम अधिनियम 1960 की धारा 11 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

क्या है पशु क्रूरता निवारण अधिनियम
जानवरों पर अनावश्यक दर्द या पीड़ा रोकने के लिए और पशुओं के प्रति क्रूरता की रोकथाम से संबंधित कानून में संशोधन करने हेतु ‘पशु क्रूरता निवारण अधिनियम ,1960’ अधिनियमित किया गया था। इस अधिनियम के लागू होने के बाद पशु कल्याण बोर्ड को पशुओं के कल्याण हेतु स्थापित किया गया। हालांकि पशुओं के साथ क्रूरता की घटनाएं आए दिन सामने आती रहती हैं। समय-समय पर पशुओं के कल्याण के लिए काम करने वाली संस्थाएं इसका विरोध भी करती है।

वीडियो: मुलायम सिंह यादव की पत्नी साधना गुप्ता ने तोड़ी चुप्पी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.