ताज़ा खबर
 

टीवी देख रहा था परिवार, किसान के घर में घुस आया शेर, मूंगफलियों पर यूं बैठा रहा

रविवार (11 नवंबर, 2018) रात घर में घुसे शेर ने मूंगफलियों से भरे कमरे में भैंस के बच्चे को भी मार दिया और खुद वहीं बैठ गया। बाद में वन विभाग के अधिकारियों ने किसी तरह घर का पिछला दरवाजा खोला और शेर को बाहर किया गया।

Author Updated: November 13, 2018 11:10 AM
Lionकिसान के भाई उनांद वाला ने बताया कि जिस वक्त शेर घर में घुसा तब करीब 15 लोग घर में मौजूद थे। (Express photo by Dashrathsinh Rathod)

गुजरात के अमरेली जिला स्थित पाटला गांव में किसान के घर के एक शेर घुस आया और खूब उत्पाद मचाया। खबर है कि रविवार (11 नवंबर, 2018) रात घर में घुसे शेर ने मूंगफलियों से भरे कमरे में भैंस के बच्चे को भी मार दिया और खुद वहीं बैठ गया। बाद में वन विभाग के अधिकारियों ने किसी तरह घर का पिछला दरवाजा खोला और शेर को बाहर किया गया। वन-संरक्षक चीफ दुष्यंत वसावडा ने बताया, ‘रविवार रात करीब साढ़े नौ बजे हमें अलर्ट मिला कि कम उम्र का शेर दीवार फांदकर किसान जीलूभाई वाला के आवास में घुस आया। सूचना मिलते ही हमारा स्टाफ और ईस्ट गिर के जंगलों के डिप्टी कंज़र्वेटर पी पुरुषोत्तम स्पोट पर पहुंचे और बचाव अभियान की योजना बनाई।’

किसान के भाई उनांद वाला ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि जिस वक्त शेर घर में घुसा तब करीब 15 लोग घर में मौजूद थे। 46 साल के उनांद ने आगे बताया, ‘जिस वक्त शेर दीवार फांदकर घर में घुसा और तीन साल के भैंस के बच्चे को मार दिया, तब हम टीवी देख रहे थे। शेर ने जब बच्चे को मार दिया तब करीब 20 भैंसों ने उसका पीछा किया। इस दौरान बचने के लिए शेर एक कमरे में घुस गया जहां मूंगफलियां स्टोर कर रखी गई थीं। किसी भी अप्रिय स्थिति तो देखते हुए हमने बच्चों और घर की महिलाओं को एक कमरे में बंद कर दिया और उस कमरे को भी बंद कर दिया जहां शेर ने पनाह ली थी।’

इसके अलावा घर में मौजूद परिवार के सदस्य ने सुरक्षा अलार्म भी बजा दिया। इसपर गांव के अन्य लोग तुरंत इकट्ठा हो गए और वन विभाग को अलर्ट भेजा गया। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रेस्क्यू ऑपरेशन करीब ढाई घंटे तक चला। वसावडा के मुताबिक, ‘शेर जिस स्टोर रूम में था वहां पिछला दरवाजा भी था, जो गांव में खाली जगह की तरफ खुलता था। मगर यह दरवाजा अंदर की तरफ से बंद था। शुरुआत में हिचकने के बाद किसान ने हमें दरवाजा तोड़ने की अनुमति दे दी। इसके बाद वाहन के जरिए दरवाजा तोड़ दिया गया। इस अलावा एक मानवा चैन भी बनाई गई ताकि शेर किसी दूसरे कमरे में ना घुस जाए। हालांकि जैसे ही हमने दरवाजा तोड़ा शेर पास के जंगल में चला गया।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गुजरात के सीएम विजय रुपाणी के कार्यक्रम में किसान ने की जान देने की कोशिश
2 गुजरात: मोदी-शाह के पोस्टर पर पोती कालिख, एक गिरफ्तार
3 गुजरात: ईसाइयों के कार्यक्रम के खिलाफ उतरे हिंदू संगठन, चर्च को देनी पड़ी सफाई- धर्मांतरण मकसद नहीं
ये पढ़ा क्या?
X