hardik patel give open support to congress for upcoming gujarat polls - Jansatta
ताज़ा खबर
 

गुजरात गुजरात: हार्दिक ने किया कांग्रेस को समर्थन का एलान

कांग्रेस ने मोदी की भावुक तकरीरों का जवाब युवा तिकड़ी और सूबे के कांग्रेसी नेताओं पर ही छोड़ दिया जाएगा।

Author नई दिल्ली | November 23, 2017 2:19 AM
हार्दिक पटेल और राहुल गांधी। (फाइल फोटो)

गुजरात के युवा पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने सूबे के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को समर्थन देने का एलान कर दिया है। इस अहम घोषणा का स्वागत करते हुए कांग्रेस ने हार्दिक के साथ मिलकर गुजरात में भाजपा को सत्ता से बाहर करने का आह्वान किया है। हार्दिक के खुलकर मैदान में आ जाने के बाद कांग्रेस ने मोदी को जवाब देने के लिए अपने उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बजाय लगातार सुर्खियां बटोर रही हार्दिक-अल्पेश और जिग्नेश की युवा तिकड़ी को मैदान में उतारने की रणनीति बनाई है। हार्दिक पटेल ने बुधवार को अमदाबाद में अपने पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) की ओर से आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को समर्थन देने की घोषणा कर दी। इसके साथ ही कांग्रेसी खेमे में हलचल तेज हो गई। पार्टी ने गुलाम नबी आजाद, बीके हरिप्रसाद और मुकुल बाकी  वासनिक सरीखे अपने वरिष्ठ नेताओं को हार्दिक के साथ मिलकर आगे की रणनीति तय करने के लिए गुजरात रवाना कर दिया।

ये नेता दूसरे चरण के चुनाव के लिए सीटों के बंटवारे से लेकर समूचे चुनाव अभियान को लेकर हार्दिक और उनके समर्थकों से बातचीत करेंगे। हार्दिक के साथ समझौते की घोषणा तो पहले ही हो गई थी, लेकिन सीट बंटवारे को लेकर हार्दिक की ओर से खुलकर कांग्रेस का हाथ थामने की बात कहे जाने का इंतजार किया जा रहा था। हार्दिक की घोषणा को लेकर दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने आभार जताते े हुए कहा कि उनकी संयुक्त लड़ाई से भाजपा सत्ता से बाहर हो जाएगी। हालांकि उन्होंने इस बारे में चुप्पी साधे रखी कि कांग्रेस और हार्दिक के बीच आरक्षण को लेकर कौन से फार्मूले पर सहमति बनी है। उन्होंने कहा कि संबंधित नियमों को बाद में तय किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हमें खुशी है कि साझा मोर्चा अब भाजपा के खिलाफ लड़ेगा। उन्होंने कहा कि हम उनका आभार व्यक्त करते हैं क्योंकि वे (पास) हमारे साथ एक विचारधारा के साथ शामिल हुए कि मिलकर चुनाव लड़ा जाए और हमारा लक्ष्य चुनाव जीतना और लोगों से किए गए वादों को पूरा करना है।

कांग्रेस के महासचिव और गुजरात के प्रभारी व सूबे के कांग्रेसी मुखिया भरत सिंह सोलंकी ने भी हार्दिक के एलान का स्वागत किया। गहलोत ने कहा कि पटेल आंदोलन के दौरान बड़ी संख्या में लोग मरे। वहां के लोगों में इस बात का गहरा दर्द है। उन्होंने कहा कि हार्दिक युवा हैं, समाज का दर्द समझते हैं। अब कांग्रेस के साथ मिलकर हार्दिक भाजपा को सत्ता से उखाड़ने का बिगुल फूंकेंगे। सोलंकी ने कहा कि नितिन पटेल ने पिछले दिनों कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और हार्दिक को लेकर जो बयान दिया था, उसका जवाब अब उनको मेहसाणा की जनता देगी। दिल्ली में मौजूद दोनों नेताओं ने कहा कि पार्टी उम्मीदवारों की दूसरी सूची को लेकर मंथन जारी है। एनसीपी और जद (एकी) को भी साथ लाने की कोशिश की जा रही है। गहलोत ने पीएम मोदी द्वारा अपने गृह प्रदेश में गुजरात गौरव और गुजरात अस्मिता का सवाल उठाकर कांग्रेस को घेरे जाने को लेकर पूछने पर कहा कि जब जनता आपके खिलाफ मन बनाकर खड़ी हो जाती है, तब ये सारी बातें धरी रह जाती हैं। उन्होंने दावा किया कि गुजरात की जनता भाजपा से छुटकारा चाहती है। हालांकि कांग्रेस ने भाजपाई रणनीति की काट के तहत तय किया है कि राहुल गांधी से लेकर पार्टी के तमाम बड़े नेता सूबे में चुनाव प्रचार जमकर करेंगे। लेकिन मोदी की भावुक तकरीरों का जवाब युवा तिकड़ी और सूबे के कांग्रेसी नेताओं पर ही छोड़ दिया जाएगा।

बिना इजाजत की रैली, प्राथमिकी

गांधीनगर के मनसा में 18 नवंबर को पुलिस की अनुमति के बिना रैली आयोजित करने पर हार्दिक पटेल और छह अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। मनसा पुलिस ने कहा कि हार्दिक और उनके साथियों दिनेश बांबनिया और अतुल पटेल समेत अन्य के खिलाफ गैरकानून तरीके से एकत्रित होना और किसी सरकारी सेवक के आदेश की अवज्ञा करने के मामलों में प्राथमिकी दर्ज की गई है। (भाषा)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App