scorecardresearch

“हां अब मेरे तेवर बदल गए”, कभी अमित शाह को जनरल डायर बोलने वाले हार्दिक पटेल दो जून को बीजेपी में होंगे शामिल

Hardik Patel Will Join BJP Know About Everything In Hindi: हार्दिक पटेल ने कांग्रेस छोड़ने के बाद बीजेपी की तारीफ की थी और कहा था कि कांग्रेस ने हर समय सिर्फ पीएम मोदी का विरोध ही किया।

“हां अब मेरे तेवर बदल गए”, कभी अमित शाह को जनरल डायर बोलने वाले हार्दिक पटेल दो जून को बीजेपी में होंगे शामिल
हार्दिक पटेल (फोटो: पीटीआई)

गुजरात के पाटीदार नेता और कांग्रेस की गुजरात इकाई के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल 2 जून को भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन करेंगे। उन्होंने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए इस बात की पुष्टि की। हाल ही में उन्होंने कांग्रेस पार्टी से त्यागपत्र दे दिया था और उसके बाद से ही अटकले लगाईं जा रही थीं कि वो बीजेपी जॉइन करेंगे। हार्दिक पटेल ने पाटीदार आन्दोलन के वक्त गृहमंत्री अमित शाह को जनरल डायर तक बोल दिया था।

हार्दिक पटेल ने कांग्रेस छोड़ने के बाद से पार्टी पर निशाना साधना शुरू कर दिया था। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाती रही है और कांग्रेस ने राम मंदिर का विरोध किया था। उन्होंने ट्वीट कर लिखा था, “मैंने पहले भी कहा था की कांग्रेस पार्टी जनता की भावनाओं को ठेस पहुँचाने का काम करती है। हमेशा हिंदू धर्म की आस्था को नुक़सान पहुँचाने का प्रयास करती हैं। आज पूर्व केन्द्रीय मंत्री और गुजरात कांग्रेस के नेता ने बयान दिया की राम मंदिर की ईंटों पर कुत्ते पेशाब करते हैं।”

हार्दिक पटेल ने राम मंदिर के विरोध को लेकर भी कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, “मैं कांग्रेस और उसके नेताओं से पूछना चाहता हूँ की आपको भगवान श्री राम से क्या दुश्मनी हैं? हिंदुओ से क्यों इतनी नफरत? सदियों बाद अयोध्या में भगवान श्री राम का मंदिर भी बन रहा है फिर भी कांग्रेस के नेता भगवान श्री राम के ख़िलाफ़ अनाप-शनाप बयान देते रहते हैं।”

हार्दिक पटेल ने वर्ष 2015 में पाटीदार आंदोलन का नेतृत्व किया था। पाटीदार आंदोलन वो आंदोलन है जो पाटीदार समाज को गुजरात में सरकारी नौकरियों व अन्य जगहों पर ओबीसी का स्टेटस प्राप्त करने के लिए था। 2017 के विधानसभा चुनाव में इस आंदोलन के कारण बीजेपी को नुकसान भी हुआ और सीटें भी कम हुईं।

हार्दिक पटेल के खिलाफ 2015 से 2018 के बीच कम से कम 30 एफआईआर दर्ज है। इनमें से 7 मुकदमें 2015 में दर्ज किए गए थे, जिसमें पाटीदार समुदाय, सरकारी नौकरियों और शिक्षा के लिए कोटा की मांग, गुजरात में आंदोलन के दौरान दंगा और देशद्रोह जैसे कई मामलों में हार्दिक पटेल के खिलाफ मुकदमे दर्ज किए गए हैं। वहीं हार्दिक पटेल के मुताबिक फिलहाल उनके खिलाफ 23 केस चल रहे हैं।

वर्तमान में हार्दिक पटेल के खिलाफ 11 मुकदमें चल रहे हैं, जिसमें उन्हें अदालती कार्यवाही का सामना करना पड़ रहा है। दो मुकदमे देशद्रोह से संबंधित हैं। शेष मामलों को या तो राज्य द्वारा वापस ले लिया गया है या फिर गुजरात हाई कोर्ट द्वारा खारिज कर दिया गया है, या कोई कार्यवाही शुरू नहीं की गई है।

आंदोलन के दौरान तत्कालीन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को हार्दिक पटेल जनरल डायर बोला करते थे। कुछ दिन पहले ही एबीपी न्यूज को इंटरव्यू देने के दौरान हार्दिक ने इसे स्वीकार भी किया। उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि तब वो गृहमंत्री नहीं थे, बल्कि पार्टी के अध्यक्ष थे। हार्दिक पटेल ने कहा कि गृहमंत्री बनने के बाद जब उन्होंने सीएए, आर्टिकल 370 पर फैसले लिए, फिर मेरा हृदय परिवर्तन हो गया।

पढें अहमदाबाद (Ahmedabad News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.