ताज़ा खबर
 

पीएम मोदी का मणिशंकर पर पलटवार, कहा- भले ही ‘नीच’ जाति का, काम तो ऊंचे किए

मोदी ने दावा किया कि गुजरात की जनता बीजेपी को वोट देकर जवाब देगी।
कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर और पीएम मोदी।

कांग्रेसी नेता मणिशंकर अय्यर द्वारा ‘नीच’ बताने के बाद पीएम मोदी ने तगड़ा पलटवार किया है। मोदी ने गुजरात के सूरत में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि भले ही नीची जाति का हूं, लेकिन काम ऊंचे किए हैं। उन्होंने कहा कि ऊंच-नीच की बातें उनके संस्कार में नहीं। ये सारी बातें कांग्रेस को ही मुबारक हों। मोदी ने दावा किया कि गुजरात की जनता बीजेपी को वोट देकर जवाब देगी। मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने ‘गुजरात के बेटे’ के लिए नीच शब्द का इस्तेमाल किया। बता दें कि मोदी ने इस मौके पर कांग्रेस के उस बयान का भी जिक्र किया, जिसके तहत उन्हें मौत का सौदागर बताया गया था। पीएम ने अपील की कि पार्टी का कोई भी सदस्य किसी भी फोरम पर मणिशंकर अय्यर की इस टिप्पणी का जवाब नहीं देगा।

बता दें कि इससे पहले मणिशंकर अय्यर ने आम चुनाव 2014 से पहले मोदी को ‘चायवाला’ कहा था। माना जाता है कि उनकी इस टिप्पणी की वजह से कांग्रेस को खासा राजनीतिक नुकसान उठाना पड़ा। हाल ही में उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष पद चुनाव की तुलना मुगल काल से कर दी थी। मोदी के बारे में गुरुवार को उन्होंने कहा, ‘मुझको लगता है कि यह आदमी बहुत ही नीच किस्म का आदमी है। इसमें कोई सभ्यता नहीं है और ऐसे मौकों पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है?’ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने पीएम मोदी द्वारा डॉ. अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर के उद्घाटन के दौरान दिए गए बयान के संदर्भ में यह बात कही। पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को सेंटर के उद्घाटन के दौरान अपने संबोधन में नाम लिए बिना ही कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा था और कहा कि एक परिवार के फायदे के लिए डॉ. साहब के योगदानों को भुलाने की कोशिश की गई थी।

इससे पहले भी ‘नीच’ शब्द को लेकर कांग्रेस और बीजेपी के बीच बड़ा राजनीतिक विवाद हो चुका है। आम चुनाव के दौरान प्रियंका गांधी ने मोदी पर ‘नीच राजनीति’ करने का आरोप लगाया था। इसके जवाब में मोदी ने कहा था कि वह सामाजिक तौर पर निचले वर्ग से ताल्लुक रखते हैं, इसलिए उनकी राजनीति उन लोगों के लिए ‘नीच राजनीति’ ही रहेगी। इसके बाद, कांग्रेस ने अपना बचाव करते हुए कहा था कि मोदी जानबूझकर इस बयान को अपनी जाति से जोड़ रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.