ताज़ा खबर
 

दान में 500 का नोट देने गया बेटा तो डिप्टी सीएम ने पकड़ा हाथ? वीडियो हुआ वायरल

विपक्षी दल कांग्रेस ने भाजपा राजनेताओं पर तीखा हमला बोला है। पार्टी नेताओं का कहना है कि भाजपा सिर्फ मंदिर के नाम पर वोट मांगती है, मगर दान नहीं देती।

वीडियो तेजी से सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। (फोटो सोर्स वीडियो स्क्रीन शॉट)

सोशल मीडिया में वायरल हो रहे वीडियो की वजह से गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल विवादों में आ गए हैं। वीडियो में डिप्टी सीएम अपने बेटे को मंदिर की दान पेटी में पैसे डालने से रोक रहे हैं। दरअसल राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल अपने-अपने परिवार संग वेरावल के सोमनाथ मंदिर में भगवान के दर्शन के लिए पहुंचे थे। इस दौरान जब नितिन पटेल के बेटे ने मंदिर की दान पेटी में 500 रुपए डालने के लिए पैसे पर्स से निकाले तो पिता ने उन्हें रोक दिया। बेटे को मंदिर की दान पेटी में पैसे नहीं डालने देने वाला यह वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है।

हालांकि खासतौर पर वीडियो गुजरात के सरकारी शिक्षकों और कर्मचारियों के व्हाट्सएप ग्रुप में वायरल हो रहा है। इनका सरकार से वित्तीय बकाया को लेकर झगड़ा चल रहा है। वीडियो वायरल होने पर सरकारी कर्मचारी और टीचर इसे अपने ग्रुप में भी खूब शेयर कर रहे हैं। वीडियो एक खास टैगलाइन से शेयर किया जा रहा है। इसमें लिखा, ‘वीडियो इस बात का संकेत हैं कि अगर वित्त मंत्री भगवान को पैसे दान करने में कंजूसी कर सकते हैं तो हमारे जैसे कमतर लोगों के ड्यूज क्लिकर होने का कम ही मौका मिलता है।’

वहीं विपक्षी दल कांग्रेस ने भाजपा राजनेताओं पर तीखा हमला बोला है। पार्टी नेताओं का कहना है कि भाजपा सिर्फ मंदिर के नाम पर वोट मांगती है, मगर दान नहीं देती। दूसरी तरफ मामले में विवाद ज्यादा बढ़ने पर डिप्टी सीएम ने एक दिन बाद सफाई दी है। उन्होंने कहा, ‘हां मैंने अपने बेटे को मंदिर की दान पेटी में 500 रुपए दान करने से रोका, क्योंकि हम बाद में एकमुश्त दान करने जा रहे थे। इसके अलावा हमने एक बाजोट भी दान में दी है।’ बाद में मंदिर प्रशासन ने भी इस बात की पुष्टि की मंदिर को बाजोट दान किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App