ताज़ा खबर
 

Gujarat constable exam 2018: परीक्षा शुरू होने से घंटों पहले लीक हुआ पेपर

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक विकास सहाय के मुताबिक पेपर लीक ना होता तो 8.75 लाख उम्मीदवार परीक्षा में बैठते। परीक्षा के लिए 2,440 परीक्षा केंद्र बनाए गए, जिनके 29,000 क्लासरूम में परीक्षा का आयोजन होता।

Author December 2, 2018 3:54 PM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

गुजरात में लोक रक्षक दल (एलआरडी) की भर्ती परीक्षा, परीक्षा पेपर लीक होने के चलते रद्द कर दी गई हैं। लोक रक्षक दल भर्ती बोर्ड (LRRB) और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक विकास सहाय ने बताया कि भर्ती परीक्षा एक महीने के अंदर दोबारा आयोजित की जाएंगी। मीडिया को संबोधित करते हुए सहाय ने बताया, ‘मुझे जानकारी मिली कि असामाजिक तत्वों द्वारा परीक्षा पेपर लीक किया गया। चूंकि मैंने प्रश्न पत्र तैयार किया इसलिए मुझे तुरंत पता चल गया कि पेपर लीक हो गया है। यही वजह है जिसके चलते परीक्षा रद्द कर दी गईं। मुझे उम्मीदवारों की असुविधा की लिए दुख है। शायद एक महीने के अंदर परीक्षा फिर से आयोजित की जाएंगी।’ सहाय ने कहा कि, ‘अभी हमें यह नहीं पता चला है कि पर्चा कहां से लीक हुआ। हमने हर जिले में पर्चा रखने की जगह पर सीसीटीवी कैमरे लगाए हुए थे और सुरक्षा गार्ड भी तैनात किए गए थे। परीक्षा रद्द होने पर विपक्षी कांग्रेस पार्टी ने भाजपा सरकार की आलोचना की।

बता दें कि राज्य में लोक रक्षक और हथियारबंद लोक रक्षक और जेल सिपाही के 9,713 पद के लिए परीक्षाएं आयोजित की गईं। परीक्षा में करीब 9 लाख उम्मीदवार भाग लेने वाले थे। विकास सहाय ने बताया कि ‘यह अच्छी खबर है कि परीक्षा से पहले पेपर लीकर होने की जानकारी मिल गई। परीक्षा पत्र  लीक होना जांच का विषय है। मगर कुछ भी हो गुजरात पुलिस उन असामाजिक तत्वों को नहीं छोड़ेगी जो इसके जिम्मेदार हैं।’

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक विकास सहाय के मुताबिक पेपर लीक ना होता तो 8.75 लाख उम्मीदवार परीक्षा में बैठते। परीक्षा के लिए 2,440 परीक्षा केंद्र बनाए गए, जिनके 29,000 क्लासरूम में परीक्षा का आयोजन होता।

मामले में कांग्रेस प्रवक्ता मनीष दोशी ने कहा, “भाजपा सरकार गुजरात के युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। इस सरकार को सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं है जो बिना भ्रष्टाचार में शामिल हुए एक परीक्षा भी नहीं करा सकती।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App