गुजरात: बीजेपी विधायक बोले- यहां पानी से ज्यादा मिल रही बीयर, पार्टी ने दी सफाई - gujarat BJP MLA claimed that beer was more freely available than water in his constituency in Navsari district - Jansatta
ताज़ा खबर
 

गुजरात: बीजेपी विधायक बोले- यहां पानी से ज्यादा मिल रही बीयर, पार्टी ने दी सफाई

दरअसल मंगलवार (एक अप्रैल, 2018) को रमेश छोटूभाई पटेल नवसारी जिले के गंदेवी तालुका में मासा गांव में सरकार के जल संरक्षण अभियान भाग लेने के लिए पहुंचे थे।

Author May 3, 2018 12:09 PM
भाजपा विधायक रमेश छोटूभाई पटेल। (एक्सप्रेस फोटो)

गुजरात में भाजपा विधायक रमेश छोटूभाई ने अपने एक बयान से विवाद पैदा कर दिया है। विधायक ने कहा है कि नवसारी जिले में स्थित उनके विधानसभा क्षेत्र में बीयर पानी से भी ज्यादा आसानी से मिल जाती है। विधायक के इस बयान पर पार्टी ने दूरी बनाते हुए कहा है कि उन्होंने ऐसा मजाक में कह दिया था। बयान पर सफाई देते हुए नवसारी से विधायक नरेश पटेल ने कहा, ‘आरसी पटेल एक गांव में अपने पिछले अनुभवों का उदाहरण दे रहे थे। इसमें उन्होंने कहा कि तटीय इलाकों के गांवों में पानी की जगह कोल्ड ड्रिंक्स मिलती थी। इस दौरान उन्होंने मजाक में बीयर शब्द का भी इस्तेमाल किया। भाजपा जबसे दोबारा सत्ता में लौटी है पीने योग्य पानी राज्य के तटीय इलाकों में भी पहुंचाया गया है।’

दरअसल मंगलवार (एक अप्रैल, 2018) को रमेश छोटूभाई पटेल नवसारी जिले के गंदेवी तालुका में मासा गांव में सरकार के जल संरक्षण अभियान भाग लेने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कहा, ‘मैं अपनी विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले बोर्सी माचीवाड़ गांव में गया। वहां पार्टी कार्यकर्ताओं ने पीने के लिए कोल्ड ड्रिंक्स दी तो मैंने कहा कि पैसे क्यों बर्बाद कर रहे हो। मैंने उनसे पानी मांगा। इसके जवाब में उन्होंने मुझसे कहा कि सर यहां बीयर तो आसानी से मिल सकती है लेकिन पानी नहीं मिलता। यहां पानी मिलना बहुत मुश्किल हैं।’ विधायक ने आगे कहा कि वह जानते हैं तटीय क्षेत्रों में पानी की स्थिति की क्या है।

हालांकि मामले में जब इंडियन एक्सप्रेस ने उनसे संपर्क साधने की कोशिश की तो उन्होंने विवादित बयान पर प्रतिक्रिया देने की जगह कांग्रेस शासन पर बात करने शुरू कर दी। विधायक ने कहा कि वह तो कांग्रेस शासन के दौरान तटीय क्षेत्रों के गांवों में पानी की समस्या का जिक्र कर रहे थे। उन्होंने कहा, ‘मैंने अपने भाषण में कहा है कि जब हम तटीय क्षेत्रों के गांवों में पहुंचे तो पार्टी कार्यकर्ता ने सोफ्ट ड्रिंक्स दीं। तब मैंने उनसे कहा था कि इसमें पैसे क्यों बर्बाद कर रहे हैं। हमें सिर्फ पानी ही मिल जाए तो बहुत है। इसके जवाब में विधायक ने कहा सर यहां पानी मिलना मुश्किल है लेकिन बीयर आराम से मिल सकती है। मेरे बयान को तोड़-मरोड़कर सोशल मीडिया में पेश किया गया है। वहां पूर्व में पानी की समस्या थी लेकिन अब मेरे विधानसभा क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले कई तटीय गांवों में पानी की समस्या नहीं है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App