ताज़ा खबर
 

गुजरात में प्रचार के लिए महाराष्ट्र से 250 मुस्लिम कार्यकर्ता भेजेगी बीजेपी

गुजरात में नौ दिसंबर और 14 दिसंबर को विधान सभा चुनाव के लिए मतदान होना है। नतीजे 18 दिसंबर को आएंगे।

रक्षाबंधन पर कई मुस्लिम महिलाओं ने पीएम नरेंद्र मोदी को राखी भेजी थी। (फाइल फोटो)

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) गुजरात चुनाव में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती शायद यही वजह है कि वो राज्य में अगले महीने वाले चुनाव के लिए महाराष्ट्र से करीब 250 मुस्लिम कार्यकर्ताओं को चुनाव प्रचार के लिए गुजरात भेजेगी। टाइम्स ऑफ इंडिया कि रिपोर्ट के अनुसार बीजेपी के अल्पसंख्यक शाखा से जुड़े मुस्लिम कार्यकर्ताओं का पहला जत्था चार या पांच नवंबर को गुजरात पहुंचेगा। मुंबई बीजेपी के उपाध्यक्ष हैदर आजम ने टीओआई से कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार के साढ़े तीन साल के कार्यकाल में गुजरात में कई सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ है और पीएम मोदी का सबका साथ सबका विकास का नारा पार्टी के प्रचार का आधार होगा। आजम ने दावा किया कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार की कई योजनाओं से अल्पसंख्यकों को फायदा हुआ है। आजम ने कहा कि वो मतदाताओं को इन बातों का यकीन दिलाने की कोशिश करेंगे।

बीजेपी मुस्लिम मोर्चा के अध्यक्ष वसीम खान ने टीओआई से कहा कि पहले मुस्लिम चुपचाप बीजेपी को समर्थन देते थे, इस बार हम उनसे खुलकर सामने आने की अपील कर रहे हैं। गुजरात में कुल 182 विधान सभा सीटें हैं। राज्य में दो चरणों में नौ दिसंबर और 14 दिसंबर को मतदान होगा। पहले चरण में 89 सीटों के लिए और दूसरे चरण में 93 सीटों के लिए मतदान होगा। नतीजे 18 दिसंबर को आएंगे। राज्य में पिछले 22 साल से लगातार बीजेपी की सरकार है। इससे पहले साल 2012, 2007 और 2002 में बीजेपी नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में गुजरात विधान सभा चुनाव लड़ी थी। हालांकि साल 2002 के विधान सभा चुनाव के तुलना में 2007 में बीजेपी को काफी कम सीटें मिली थीं। वहीं 2012 में वो अपनी 2007 वाली स्थिति बरकरार रखने में कामयाब रही थी।

नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद उनके गृह राज्य में पहली बार विधान सभा चुनाव हो रहा है। पीएम मोदी के साथ ही बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी अब केंद्र की राजनीति में सक्रिय हैं। अमित शाह करीब दो दशकों तक गुजरात से विधायक चुने जाते रहे लेकिन इस साल वो पहली बार विधायक पद से इस्तीफा देकर राज्य से राज्य सभा सांसद चुने गये।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App