ताज़ा खबर
 

गांधीनगर: बच्ची से बलात्कार का मामला, स्कूल ने नहीं कराया था आरोपी का पुलिस सत्यापन

स्कूली बच्चों के यौन उत्पीड़न की बार-बार सामने आ रही घटनाओं के बावजूद स्कूलों की ओर से सुरक्षा और कर्मचारियों के सत्यापन को लेकर किस कदर उदासीनता बरती जा रही है, इसका खुलासा दिल्ली सरकार की ओर से कराई गई एक हालिया जांच में हुआ है।

Author नई दिल्ली | September 19, 2017 4:54 AM
इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

स्कूली बच्चों के यौन उत्पीड़न की बार-बार सामने आ रही घटनाओं के बावजूद स्कूलों की ओर से सुरक्षा और कर्मचारियों के सत्यापन को लेकर किस कदर उदासीनता बरती जा रही है, इसका खुलासा दिल्ली सरकार की ओर से कराई गई एक हालिया जांच में हुआ है।  सरकार के आदेश पर पूर्वी दिल्ली के गांधीनगर इलाके के एक स्कूल में बलात्कार की घटना की जांच के बाद सौंपी अपनी रिपोर्ट में विवेक विहार के एसडीएम ने इस स्कूल में आधा दर्जन गंभीर खामियों की ओर इशारा किया है। अपनी रिपोर्ट में उन्होंने लिखा है कि बलात्कार का आरोपी करीब ढाई साल से स्कूल में काम कर रहा था, लेकिन स्कूल प्रबंधन ने उसका सत्यापन तक कराना जरूरी नहीं समझा।

बता दें कि गांधीनगर में पूर्वी दिल्ली नगर निगम से मान्यताप्राप्त एक निजी स्कूल में एक नाबालिग बच्ची से बलात्कार की घटना के सामने आने के बाद दिल्ली सरकार के राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने विवेक विहार के एसडीएम को इस पूरे मामले के तमाम पहलुओं की जांच करने और भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए सुझाव देने को कहा था। उन्होंने एसडीएम से इस बात की भी जांच करने को कहा था कि इस पूरे मामले में किसकी जिम्मेदारी बनती है। एसडीएम ने सोमवार को अपनी रिपोर्ट राजस्व मंत्री गहलोत को सौंप दी। दिल्ली सरकार की ओर से जारी बयान में बताया गया है कि इस रिपोर्ट में एसडीएम ने मुख्य रूप से स्कूल की छह कमियां गिनाई हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, बलात्कार का आरोपी पिछले ढाई साल से स्कूल में कार्यरत था, लेकिन स्कूल ने उसका सत्यापन नहीं कराया था। उसे औपचारिक तौर पर कोई नियुक्ति पत्र भी जारी नहीं किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App