ताज़ा खबर
 

गुजरात: कुर्सी पर क्यों बैठी दलित महिला, लात मारकर गिराया, समुदाय के दूसरे लोगों से भी गाली गलौज-मारपीट

घटना के बाद दरबार समुदाय से 9 और लोग आए और वहां मौजूद दलितों को जाति से जुड़ी गालियां दीं, और उनपर डंडों और लोहे के सरिये से हमला कर दिया। एफआईआर के मुताबिक जब महिला का बेटा और पति उसे बचाने आया तो अगड़ी जाति के लोगों ने उन पर भी हमला कर दिया।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

बीजेपी शासित गुजरात के अहमदाबाद में एक दलित आंगनबाड़ी महिला कार्यकर्ता पर सिर्फ इसलिए हमला कर दिया गया, क्योंकि वह पंचायत ऑफिस में कुर्सी पर बैठ गई थी। इस महिला को पंचायत ऑफिस में आधार कार्ड बांटने का काम दिया गया था। आरोप है कि जब महिला कुर्सी पर बैठी तो दरबार समुदाय के लोगों ने उस पर हमला किया। पीड़ित महिला के परिवार पर पहले भी इलाके के दबंग हमला कर चुके हैं। पिछले महीने जब इस महिला के एक रिश्तेदार ने अपने नाम में ‘सिंह’ लगाया था उस वक्त भी दंबगों ने इसके रिश्तेदार पर हमला किया था।

अहमदाबाद के कोठ पुलिस स्टेशन में 7 जून (गुरुवार) को दर्ज एफआईआर के मुताबिक जयराज सिंह वेगड़ नाम के शख्स ने पीड़िता को पूछा कि वह कुर्सी पर क्यों बैठी है। इसके बाद उसने कुर्सी को धक्का दिया इसके बाद पीड़िता कुर्सी से गिर गई। जयराज सिंह वेगड़ इस मामले के 10 आरोपियों में से एक है। घटना के बाद दरबार समुदाय से 9 और लोग आए और वहां मौजूद दलितों को जाति से जुड़ी गालियां दीं, और उनपर डंडों और लोहे के सरिये से हमला कर दिया। एफआईआर के मुताबिक जब महिला का बेटा और पति उसे बचाने आया तो अगड़ी जाति के लोगों ने उन पर भी हमला कर दिया।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक पीड़ित महिला के रिश्तेदार ने कहा, “दरबार दलितों को तंग करने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि मैंने उनके समुदाय के लोगों के खिलाफ केस दर्ज करवाया था, वे लोग मेरे नाम के टाइटल में सिंह लगाने का विरोध कर रहे थे, जिस महिला को पीटा गया है वो मेरी आंटी हैं, उनका एक प्राइवेट अस्पताल में इलाज किया जा रहा है, उनके सिर में गंभीर चोटें आईं हैं। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने घटना की पुष्टि की है और कहा है कि दूसरी ओर से भी केस दर्ज कराया गया है। दरबार समुदाय के लोगों पर एंटी दलित उत्पीडन एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App