ताज़ा खबर
 

गुजरात में ऐसे हुआ राहुल गांधी के लिए मरीज का इंतजाम: डॉक्‍टरों ने डिस्‍चार्ज कर दिया था, पर नेताओं ने दोबारा करवा दिया भर्ती

इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान राजकोट और ऊना के डॉक्टरों ने बताया कि उनपर राजनीतिक दवाब था।

gujarat, rahul gandhi, rahul gandhi visitरमेश सावरिया। (Express Photo)

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात में दलित पीड़ितों से मिलने पहुंचे तो थे लेकिन इस यात्रा की वजह से वह नए-नए विवादों में फंस गए हैं। ‘फर्जी मां’ से मिलने के अलावा अब एक नया विवाद सामने आया है। खबर है कि एक पीड़ित जिसे डिस्चार्ज किया जा चुका था उसे राहुल गांधी के आने की खबर मिलने के बाद दोबारा से हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था। जिस शख्स के दोबारा हॉस्पिटल में भर्ती करवाने की बात सामने आई है उसका नाम रमेश सावरिया है। 23 साल का रमेश उन 7 लोगों में से था जिसे मरी हुई गाय की चमड़ी उतारने के आरोप में कुछ गऊ रक्षकों ने ऊना में पीटा था।

डॉक्टरों पर था राजनीतिक दवाब: इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान राजकोट और ऊना के डॉक्टरों ने बताया कि उनपर राजनीतिक दवाब था। राजकोट के सरकारी हॉस्पिटल के सीनियर डॉक्टर ने कहा, ‘4 मरीज ठीक हो गए थे उन्हें किसी भी वक्त डिस्चार्ज किया जा सकता था। 11 लोग जिन्होंने जहर खाकर जान देने की कोशिश की थी वे भी ठीक थे और घर जा सकते थे लेकिन राजनीतिक दवाब की वजह से उन्हें हॉस्पिटल में ही रोकना पड़ा। अलग-अलग पार्टी के नेता आकर हमसे कह रहे थे कि उन लोगों की हालत खराब है और उन्हें घर नहीं भेजा जाना चाहिए।’

Read Also: AAP को रोकने के लिए अमित शाह को गुजरात का CM बना सकती है BJP

मिली जानकारी के मुताबिक, रमेश को जूनागढ़ हॉस्पिटल से डिस्चार्ज करके घर भेज दिया गया था। बावजूद इसके, गुरुवार (21 जुलाई) को राहुल के दौरे के दौरान वह हॉस्पिल में लेटा मिला। हॉस्पिटल के कागजात देखने पर पता लगा कि रमेश को राहुल गांधी के आने से 7 घंटे पहले ही वहां भर्ती करवाया गया था।

Read Alsoगुजरात में दलित सुरक्षित नहीं, सरकार ने करोड़ों रुपये खर्चकर छुपाई सच्‍चाई

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ऊना मामला: प्रकाश करात ने दलित अत्याचार की घटनाओं पर PM की ‘‘चुप्पी’’ पर उठाए सवाल
2 ऊन घटना: गुजरात मानवाधिकार आयोग ने कार्रवाई रिपोर्ट मांगी
3 Video Analysis: क्या है केजरीवाल के उना दौरे का सियासी गणित?
ये पढ़ा क्या...
X