ताज़ा खबर
 

गुजरात: दलितों की सभा में बोले राहुल-रोहित वेमुला ने आत्महत्या नहीं की, उसे हिन्दुस्तान की सरकार ने मारा

राहुल ने कहा- गुजरात के मछुआरों को प्रदूषण के कारण अब मछली पकड़ने के लिए गहरे समुद्र में जाना पड़ता है। ये प्रदूषण 10-15 उद्योगपतियों ने फैलाया है जो कि ‘मोदी जी’ के दोस्त हैं।
कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी। (फाइल फोटो)

गुजरात के रण में पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने हैदराबाद यूनिवर्सिटी के दलित छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या का मुद्दा उठाया। अहमदाबाद में राहुल गांधी ने केन्द्र पर सीधे सीधे आरोप लगाते हुए कहा कि दलित छात्र की रोहित वेमुला की हत्या हिन्दुस्तान की वर्तमान सरकार ने की है। दलित स्वाभिमान सभा में राहुल गांधी ने कहा, ‘चिट्ठी आती है मंत्री के यहां से और उसको कुचल देते हैं, रोहित वेमुला ने आत्महत्या नहीं की थी, उसकी हत्या हिन्दुस्तान की सरकार ने की थी।’ बता दें कि रोहित वेमुला की आत्महत्या का मामला राजनीतिक रूप से काफी संवेदनशील है। रोहित वेमुला हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी में पीएचडी का छात्र था। उसने 17 जनवरी 2016 को फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। इस मुद्दे पर काफी राजनीतिक हंगामा हुआ था। विपक्ष का आरोप है कि रोहित वेमुला ने विश्वविद्यालय प्रशासन की ज्यादतियों से परेशान होकर खुदकुशी कर ली थी। इस मुद्दे पर पीएम नरेंद्र मोदी ने भी बयान दिया था। लखनऊ में डॉक्टर भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह के संबोधन में वेमुला का जिक्र कर पीएम भावुक हो उठे थे। पीएम ने तब कहा था कि इस मुद्दे पर राजनीति एक तरफ है, एक मां ने एक लाल खोया। इसकी पीड़ा मैं भलीभांति महसूस करता हूं।

इससे पहले राहुल गांधी ने शुक्रवार (24 नवंबर) को राज्य के मछुआरा समुदाय के लोगों से मुलाकात की और वादा किया कि अगर उनकी पार्टी केन्द्र में सत्ता में आती है तो अलग से मत्स्य मंत्रालय बनाया जाएगा। राहुल ने मछुआरों को नौका के लिए डीजल की खरीद पर मिलने वाली सब्सिडी को समाप्त करने के लिए भाजपा सरकार की आलोचना की। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि गुजरात के मछुआरों को प्रदूषण के कारण अब मछली पकड़ने के लिए गहरे समुद्र में जाना पड़ता है। ये प्रदूषण 10-15 उद्योगपतियों ने फैलाया है जो कि ‘मोदी जी’ के दोस्त हैं।चुनाव प्रचार के लिए दो दिन की गुजरात यात्रा पर आए राहुल ने दौरे के पहले दिन मछुआरा समुदाय को संबोधित करते हुए विश्वास जताया कि कांग्रेस राज्य में जीत हासिल करेगी, जहां वह पिछले 22 वर्ष से सत्ता से बाहर है।

राहुल ने कहा, ‘‘ मछुआरों का काम किसानों की ही भांति होता है। कुछ समय पहले आप लोगों ने मांग की थी कि कृषि क्षेत्र के लिए मंत्रालय है तो मछुआरों के लिए क्यों नहीं? मैं आपसे सहमत हूं, और मैं आपसे वादा करता हूं कि केन्द्र में सरकार बनाने के बाद कांग्रेस इसका गठन करेगी। ’’ उन्होंने दावा किया कि नरेन्द्र मोदी के मुख्यमंत्री रहते भाजपा नीत राज्य सरकार ने नैनो कार परियोजना के लिए टाटा मोटर्स को 33,000 करोड़ रुपए दिए थे। गुजरात में 9 और 14 दिसंबर में दो चरणों में मतदान होना है। मतगणना 18 दिसंबर को होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. P
    Praveen
    Nov 25, 2017 at 5:17 am
    मैं यह पुराणी संवेदनशील खबर नहीं पड़ना चाहता था, मगर सिर्फ इसलिए पड़ी की जानना चाहता था की भाषण देनेवाला राहुल है या केजरीवाल? मेरा शक ठीक ही निकला. ऐसे बहुदापूर्ण वक्तवव्य केवल राहुल या केजरीवाल ही दे सकते हैं,.
    (0)(0)
    Reply
    1. S.s. Rawat
      Nov 24, 2017 at 7:47 pm
      इस आदमी का पूरी दुनिया मजाक उड़ा रही है, और भारतीय मीडिया क्यों इसे इतना भाव दे रही है, ये समझ किसी को नहीं आया, जो मन में आया कहता चला जा रहा है, इस हालत में तो ये कब्रिस्तान की राह पर जाती कांग्रेस को अब देखना ये ४४ से सीधे ०४ पर ले आएगा |
      (3)(3)
      Reply