ताज़ा खबर
 

गुजरात में जहां-जहां प्रचार को गए थे राहुल गांधी, वहां राम मंदिरों का निर्माण कराएगी कांग्रेस

अयोध्या में राम मंदिर बनाने की कोशिश कर रही बीजेपी के लिए कांग्रेस का ये फैसला 2019 के आम चुनाव से पहले एक अहम राजनीतिक घटना है।

गुजरात के सुरेंद्रनगर स्थित चामुंडा मंदिर में पूजा करते राहुल गांधी (फोटो-पीटीआई फाइल फोटो)

गुजरात चुनाव भले ही खत्म हो गया हो, लेकिन कांग्रेस इस राज्य में अभी भी चुनावी मोड में ही है। कांग्रेस ने 2019 के आम चुनाव से पहले गुजरात में एक ऐसा दांव खेला है जिसका राज्य में हिन्दू मतदाताओं पर असर पड़ सकता है। कांग्रेस ने गुजरात में 150 राम मंदिरों के पुनर्निर्माण का ऐलान किया है। दैनिक जागरण की एक रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जिन-जिन इलाकों में प्रचार के लिए गये और जिन मंदिरों में दर्शन किये उन इलाकों में मौजूद राममंदिरों का पार्टी पुनर्निमाण कराएगी। अयोध्या में राम मंदिर बनाने की कोशिश कर रही बीजेपी के लिए कांग्रेस का ये फैसला 2019 के आम चुनाव से पहले एक अहम राजनीतिक घटना है। कांग्रेस के इस फैसले पर बीजेपी ने पलटवार किया है। गुजरात बीजेपी के प्रवक्ता भरत पंड्या ने कहा कि कांग्रेस को धर्म आधारित राजनीति छोड़ देनी चाहिए। उन्होंने कांग्रेस पर दोहरे मापदंड का आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी के लिए हिंदुत्व दर्शन संस्कृति, परंपरा और सभ्यता है जबकि कांग्रेस के लिए यह राजनीतिक दंभ हो सकता है। कांग्रेस प्रवक्ता मनीष दोशी मानते हैं कि गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान जिन-जिन इलाकों में मंदिरों में गये पार्टी को वहां अच्छे नतीजे मिले।

बता दें कि राहुल गांधी गुजरात चुनाव प्रचार के दौरान सोमनाथ मंदिर, पाटनदेवी मंदिर, चामुंडा मंदिर समेत कई मंदिर पहुंचे थे। कांग्रेस अब इस एजेंडे को ध्यान में रखकर चुनाव अभियान चलाएगी। गुजरात विधानसभा में नेता विपक्ष परेश धानाणी ने कहा कि राम मंदिर कांग्रेस के लिए धर्म, आस्था का विषय है, जबकि बीजेपी के लिए नोट और वोट का जरिया। बता दें कि बीजेपी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर कांग्रेस पर हमलावर रही है।

गुजरात चुनाव के दौरान ही जब कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट से राम मंदिर मामले की सुनवाई 2019 चुनाव के बाद कराने का अनुरोध किया तो बीजेपी ने कांग्रेस पर हमला बोला। तब पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पूछा था कि क्या कांग्रेस राम मंदिर निर्माण पर सहमति जताती है या फिर इस मामले को 2019 तक टालना चाहती है। बीजेपी के इस सवाल के जवाब में कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि कांग्रेस चाहती है कि राम मंदिर मामले में अदालत जल्द फैसला करे, लेकिन बीजेपी इस मामले पर पूर्ण बहुमत में रहते हुए भी राजनीति कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App