ताज़ा खबर
 

गुजरात: हाजियों के लिए भाजपा ने लगाया टेंट, हज कमेटी से नहीं ली गई इजाजत

भाजपा अल्पसंख्यक सेल के इंचार्ज (अहमदाबाद) इम्तियाज का दावा किया एयरपोर्ट टर्मिनल पर टेंट लगाने के लिए उन्होंने जरुरी अनुमति ली थी। उन्होंने कहा कि हमारे पास हज कमेटी की अनुमति है। हालांकि कुछ भी लिखित में नहीं है।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (पीटीआई फोटो)

भाजपा इन दिनों गुजरात में मुस्लिमों के प्रति अपनी छवि चमकाने की कोशिशि में जुटी है। पार्टी ने इसके तहत बकायदा हज पर जा रहे मुस्लिम समुदाय के लिए अहमदाबाद एयरपोर्ट के समीप एक बड़ा सा टेंट लगाया है। जिसमें हज यात्रियों के लिए जलपान की सुविधा के अलावा उनका मुफ्त में मेडिकल चैकअप किया जा रहा है। सैकड़ों की तादाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बड़े से बैनर तले बने इस टेंट में मुस्लिम समुदाय के लोग पहुंच रहे हैं। हालांकि किसी ने यह जानने की कोशिश नहीं की कि रातों-रात एयरपोर्ट के पास इतना बड़ा टेंट किसने लगा दिया। टेंट के आसपास लगी भाजपा नेताओं की बड़ी तस्वीरों से समझा जा सकता है कि इस कार्यक्रम के लिए किसी की मंजूरी की जरुरत नहीं! एक न्यूज वेबसाइट ने इसकी पड़ताल की तो सामने आया कि राजनीतिक पार्टी ने इस कार्यक्रम के लिए ना तो एयरपोर्ट अधिकारियों की मंजूरी ली और ना हज कमेटी से इस आयोजन के लिए मंजूरी ली गई।

गहन पड़ताल की गई तो सामने आया कि हज कमेटी ने सिर्फ तीन टेंट लगाने की अनुमति दी। एनजीओ द्वारा स्थापित किए इन तंबुओं में विभिन्न संप्रदायों के धार्मिक प्रमुख हैं। प्रार्थना के लिए विशेष जगह है। जहां हाजियों को हज कैसे करें? सिखाया जाता है। हज के दौरान नियमों के बारे में जानकारी दी जाती है। इसके अलावा उन्हें जानकारी दी जाती है कि सऊदी अरब में किन नियमों को तोड़ेंगे तो उन्हें भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है। इसके अलावा हाजियों को बताया जाता है कि वो एहराम (हज और उमराह के दौरान की जाने वाली गतिविधि) कैसे करें।

वहीं भाजपा अल्पसंख्यक सेल के इंचार्ज (अहमदाबाद) इम्तियाज का दावा किया एयरपोर्ट टर्मिनल पर टेंट लगाने के लिए उन्होंने जरुरी अनुमति ली थी। उन्होंने कहा, ‘हमारे पास हज कमेटी की अनुमति है। हालांकि कुछ भी लिखित में नहीं है। हम एक मेडिकल कैंप स्थापित करके और तीर्थयात्रियों और उनके परिवारों को जलपान मुहैया करा रहे हैं।’ टेंट लगाने की अनुमति पर जब एयरपोर्ट के डायरेक्टर मनोज से पूछा तो उन्होंने बताया, ‘टेंट लगाने के बारे में हज कमेटी फैसला करती है। इसमें एयरपोर्ट अथॉरिटी की कोई भूमिका नहीं है। चौथा टेंट लगाने की अनुमति हमने नहीं दी।’ गुजरात हज कमेटी के सचिव आरआर मंसूरी ने कहा, ‘हमने भाजपा को टेंट लगाने की अनुमति नहीं दी।’ बता दें अगले 14 दिनों में 23 फ्लाइट्स के जरिए 6,900 हज यात्री जेद्दा के लिए रवाना होंगे। इसके तहत पूरे राज्य के तीर्थ यात्री अहमदाबाद पहुंचेंगे जहां से वो सऊदी अरब के लिए रवाना होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App