ताज़ा खबर
 

गुजरात चुनाव: मतदान से एक दिन पहले बीजेपी ने जारी किया विजन डॉक्यूमेंट, जानिए क्या है खास

संकल्प पत्र ना जारी करने पर विपक्षी दलों और कई संगठनों ने बीजेपी पर हमला किया था।

अहमदाबाद में बीजेपी का विजन डॉक्यूमेंट जारी करते बीजेपी नेता

गुजरात चुनाव के पहले चरण के मतदान से महज कुछ घंटे पहले बीजेपी ने अपना विजन डॉक्यूमेंट जारी कर दिया है। विजन डॉक्यूमेंट जारी करते हुए केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि बीजेपी के इस संकल्प पत्र में विकास को एजेंडा बनाया गया है। उन्होंने कहा कि गुजरात एक ऐसा राज्य है जहां पिछले पांच साल से विकास की दर लगातार 10 प्रतिशत बनी हुई है, और बीजेप इस रफ्तार को बरकरार रखेगी। उन्होंने यह भी कहा कि संकल्प पत्र को आदर्श आचार संहिता को ध्यान में रखकर बनाया गया है। वित्त मंत्री ने बीजेपी का घोषणा पत्र जारी करते हुए कहा कि विकास पार्टी का प्राथमिक एजेंडा है। अरुण जेटली ने पाटीदार समुदाय द्वारा उठाए जा रहे आरक्षण की मांग पर भी बीजेपी की राय रखी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने आरक्षण को लेकर जो दावा किया है वह असंवैधानिक है। उन्होंने कहा कि 50 फीसदी से ज्यादा आरक्षण संविधान के मुताबिक नहीं दिया जा सकता है। जेटली ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि गुजरात को लेकर कांग्रेस ने जो वादे किये हैं वह आर्थिक दृष्टि से भी संभव नहीं हैं।

अरुण जेटली ने गुजरात में सामाजिक ध्रुवीकरण को लेकर भी कांग्रेस पर हमला बोला। अरुण जेटली ने कहा कि कांग्रेस गुजरात में ध्रुवीकरण की राजनीति कर रही है जैसा कि उन्होंने 80 के दशक में किया था। उन्होंने कहा कि अगर पार्टी इसी रास्ते पर चलती है तो इससे सबसे ज्यादा नुकसान गुजरात का होगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी का मकसद गुजरात को एक रखना और सभी वर्गों को साथ लेकर चलना है।

बता दें कि हार्दिक पटेल समेत कई नेताओं ने बीजेपी द्वारा विजन डॉक्टूमेंट ना जारी करने पर बीजेपी की आलोचना की थी। हार्दिक पटेल ने तो यहां तक कहा था कि, ‘लगता है बीजेपी मेरा सीडी बनवाने के चक्कर में घोषणा पत्र जारी करना भूल गई है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App