BJP Leader Compared Rahul Gandhi to Aurangzeb and Alauddin Khilji, Criticises Chaiwala Meme of PM Narendra Modi by Youth Congress - बीजेपी नेता ने अलाउद्दीन खिलजी, औरंगज़ेब से की राहुल गांधी की तुलना - Jansatta
ताज़ा खबर
 

बीजेपी नेता ने अलाउद्दीन खिलजी, औरंगज़ेब से की राहुल गांधी की तुलना

गुजरात में नौ दिसंबर और 14 दिसंबर को विधान सभा चुनाव के लिए मतदान होगा। नतीजे 18 दिसंबर को आएंगे।

Author November 23, 2017 12:01 PM
गुजरात के सुरेन्द्रनगर के चौबारी गांव में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पगड़ी भेंट करते कांग्रेस कार्यकर्ता (फोटो-पीटीआई 27-09-17)

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेता जीवीएम नरसिम्हा राव बुधवार (22 नवंबर) को काग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की तुलना औरंगजेब और अल्लाउद्दीन खिलजी से कर दी। नरसिम्हा राव ने कहा, “औरंगजेब ने अपने शासन में कई मंदिर गिराये जब आम लोगों ने उसका विरोध किया तो उसने दो-तीन मंदिर बनवाने का वादा किया। अल्लाउद्दीन खिलजी ने भी यही किया…और अब राहुल गांधी उसी दिशा में जा रहे हैं।”

गुजरात विधान सभा चुनाव के प्रचार अभियान के दौरान राहुल गांधी विभिन्न मंदिरों में दर्शन भी कर रहे हैं। बीजेपी ने राहुल गांधी पर बहुसंख्यक हिंदुओं को लुभाने के लिए धार्मिक कार्ड खेलने का आरोप लगाया है। नरसिम्हा राव ने कहा, “राहुल का मंदिरों में जाना नाटक है। वो मंदिर जाकर लोगों को बरगलाना चाहते हैं। ये चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस उपाध्यक्ष की मजबूरी बन चुकी है।”

नरसिम्हा राव ने कहा, “कांग्रेस कर्नाटक में टीपू सुल्तान की जयंती मना रही है और अब गुजरात में मोहम्मद गजनी की जयंती मनाने की तैयारी कर रही है लेकिन ये कभी नहीं हो पाएगा क्योंकि वो कांग्रेस यहां कभी चुनाव नहीं जीतेगी।” नरसिम्हा राव ने आरोप लगाया कि टीपू सुल्तान ने बहुत से हिंदुओं को मुसलमान बनाकर उन्हें अपनी सेना में शामिल कर लिया था।

राव ने कांग्रेस के युवा विंग द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मजाक बनाए जाने की भी कड़ी आलोचना की। राव ने कहा कि ये देश की जनता का मजाक उड़ाने जैसा है। राव ने कहा, “मैं राहुल गांधी को बताना चाहूंगा कि भारत में अब मुगलों या ब्रिटिश का शासन नहीं है। यहां लोकतंत्र है। यहां जिसे जनता चुनती है वही नेता होता है। सोनिया गांधी और राहुल गांधी को नहीं भूलना चाहिए कि दिल्ली पर शासन करना उनका मालिकाना हक नहीं है।” राव ने गुजरता में वायरल हो चुके मैसेज “विकास गांडो थयो छे” (विकास पगला गया है) की भी आलोचना करते हुए इसे गुजरात की जनता और नेतृत्व का अपमान बताया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App