ताज़ा खबर
 

बीजेपी नेता ने अलाउद्दीन खिलजी, औरंगज़ेब से की राहुल गांधी की तुलना

गुजरात में नौ दिसंबर और 14 दिसंबर को विधान सभा चुनाव के लिए मतदान होगा। नतीजे 18 दिसंबर को आएंगे।

Author Updated: November 23, 2017 12:01 PM
Congress first list for Gujarat elections, Congress finalises first list, gujarat assembly elections 2017, first list for Gujarat, Hardik Patel, Rahul Gandhi, BJP, Hindi news, Latest Hindi news, Jansattaगुजरात के सुरेन्द्रनगर के चौबारी गांव में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पगड़ी भेंट करते कांग्रेस कार्यकर्ता (फोटो-पीटीआई 27-09-17)

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेता जीवीएम नरसिम्हा राव बुधवार (22 नवंबर) को काग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की तुलना औरंगजेब और अल्लाउद्दीन खिलजी से कर दी। नरसिम्हा राव ने कहा, “औरंगजेब ने अपने शासन में कई मंदिर गिराये जब आम लोगों ने उसका विरोध किया तो उसने दो-तीन मंदिर बनवाने का वादा किया। अल्लाउद्दीन खिलजी ने भी यही किया…और अब राहुल गांधी उसी दिशा में जा रहे हैं।”

गुजरात विधान सभा चुनाव के प्रचार अभियान के दौरान राहुल गांधी विभिन्न मंदिरों में दर्शन भी कर रहे हैं। बीजेपी ने राहुल गांधी पर बहुसंख्यक हिंदुओं को लुभाने के लिए धार्मिक कार्ड खेलने का आरोप लगाया है। नरसिम्हा राव ने कहा, “राहुल का मंदिरों में जाना नाटक है। वो मंदिर जाकर लोगों को बरगलाना चाहते हैं। ये चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस उपाध्यक्ष की मजबूरी बन चुकी है।”

नरसिम्हा राव ने कहा, “कांग्रेस कर्नाटक में टीपू सुल्तान की जयंती मना रही है और अब गुजरात में मोहम्मद गजनी की जयंती मनाने की तैयारी कर रही है लेकिन ये कभी नहीं हो पाएगा क्योंकि वो कांग्रेस यहां कभी चुनाव नहीं जीतेगी।” नरसिम्हा राव ने आरोप लगाया कि टीपू सुल्तान ने बहुत से हिंदुओं को मुसलमान बनाकर उन्हें अपनी सेना में शामिल कर लिया था।

राव ने कांग्रेस के युवा विंग द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मजाक बनाए जाने की भी कड़ी आलोचना की। राव ने कहा कि ये देश की जनता का मजाक उड़ाने जैसा है। राव ने कहा, “मैं राहुल गांधी को बताना चाहूंगा कि भारत में अब मुगलों या ब्रिटिश का शासन नहीं है। यहां लोकतंत्र है। यहां जिसे जनता चुनती है वही नेता होता है। सोनिया गांधी और राहुल गांधी को नहीं भूलना चाहिए कि दिल्ली पर शासन करना उनका मालिकाना हक नहीं है।” राव ने गुजरता में वायरल हो चुके मैसेज “विकास गांडो थयो छे” (विकास पगला गया है) की भी आलोचना करते हुए इसे गुजरात की जनता और नेतृत्व का अपमान बताया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 गुजरात चुनाव: 2012 में गिनती के वक्त खराब हुई थी ईवीएम, नहीं निकल पाए थे वोट, इस बार है अलग इंतजाम
2 गुजरात गुजरात: हार्दिक ने किया कांग्रेस को समर्थन का एलान