scorecardresearch

गुजरात के कांग्रेसी मुद्दों के बजाय इस पर ध्यान देते हैं कि दिल्ली से आए नेता को चिकन सैंडविच मिला या नहीं- राहुल पर हार्दिक का निशाना

दरअसल, कांग्रेस की गुजरात इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया।

hardik patel, gujarat, state news
गुजरात के भरूच में एक जन सभा के दौरान पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) के संयोजक हार्दिक पटेल। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः भूपेंद्र राणा)

गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने कांग्रेस से इस्तीफा देने के साथ पूर्व कांग्रेस चीफ राहुल गांधी को भी जमकर घेरा। उन्होंने बुधवार (18 मई, 2022) को अपने त्याग-पत्र के जरिए उन्होंने बताया कि किस कदर पार्टी का ध्यान बुनियादी मुद्दों को बजाय गैर जरूरी चीजों पर है।

हार्दिक ने बिना नाम लिए आरोप लगाया कि गुजरात कांग्रेस के नेता असल मुद्दों के बजाय इस बात पर अधिक ध्यान देते हैं कि दिल्ली से आए नेता को चिकन सैंडविच मिला या फिर नहीं। उन्होंने इसके अलावा यह भी आरोप लगाया कि पार्टी नेतृत्व का ध्यान समस्याओं से अधिक अपने मोबाइल और बाकी चीजों पर रहा है।

कांग्रेस की गुजरात इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे इस्तीफे को ट्विटर पर पोस्ट किया। साथ ही यह जानकारी दी कि उन्होंने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है।

पाटीदार नेता ने कांग्रेस पर गुजरात विरोधी सोच होने का आरोप लगाया और दावा किया कि कांग्रेस सिर्फ विरोध की राजनीति कर रही है और खुद को एक विकल्प के तौर पर पेश करने में विफल रही है।

वह बोले, “आज मैं हिम्मत करके कांग्रेस पार्टी की गुजरात इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष पद और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूं। मुझे विश्वास है कि मेरे इस निर्णय का स्वागत मेरा हर साथी और गुजरात की जनता करेगी।” हार्दिक ने यह भी कहा, “मैं मानता हूं कि मेरे इस कदम के बाद मैं भविष्य में गुजरात के लिए सच में सकारात्मक रूप से कार्य कर पाऊंगा।”

हालांकि, यूथ कांग्रेस चीफ की ओर से इस बाबत राहुल गांधी के वीडियो संदेश का एक हिस्सा शेयर करते हुए कहा गया- जिन्हें ‘डर’ लगता है, उन्हें ‘हार्दिक’ आभार, जो ‘सच’ के साथ खड़ा है, वो विचारधारा के साथ डटा है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.