ताज़ा खबर
 

बलात्कार पीड़िता को गुजरात हाई कोर्ट ने दी गर्भपात की इजाजत

गुजरात हाई कोर्ट ने 16 साल की एक बलात्कार पीड़िता के माता-पिता की प्रार्थना पर उचित चिकित्सकीय देखरेख में लड़की के आठ सप्ताह के गर्भ को गिराने की इजाजत दे दी है..

Author अमदाबाद | December 28, 2015 11:46 PM
गुजरात हाई कोर्ट (फाइल फोटो)

गुजरात हाई कोर्ट ने 16 साल की एक बलात्कार पीड़िता के माता-पिता की प्रार्थना पर उचित चिकित्सकीय देखरेख में लड़की के आठ सप्ताह के गर्भ को गिराने की इजाजत दे दी है। चिकित्सकीय गर्भपात अधिनियम के प्रावधानों का उल्लेख करते हुए हाई कोर्ट के न्यायमूर्ति केजे ठाकर ने स्थानीय पुलिस को लड़की को यहां सोला सिविल अस्पताल में ले जाने और उसका गर्भपात कराने से पहले मंगलवार तक डॉक्टरों की ताजा मेडिकल रिपोर्ट जमा करने का निर्देश दिया। अदालत का आदेश लड़की के माता-पिता की एक अर्जी पर आया जिन्हें अपनी बेटी के साथ कथित बलात्कार के बारे में तब पता चला जब वे 12 दिसंबर को मेडिकल जांच के लिए उसे सोला सिविल अस्पताल लेकर गए।

लड़की ने यहां सोला पुलिस में दर्ज प्राथमिकी में आरोप लगाया कि एक युवक ने पिछले तीन महीने में तीन बार उसके साथ बलात्कार किया। इससे उसका गर्भ ठहर गया। शिकायत के आधार पर सोला पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया और जेल में डाल दिया। लड़की के आठ सप्ताह की गर्भवती होने की पुष्टि होने के बाद उसके माता-पिता ने चिकित्सकीय गर्भपात अधिनियम के प्रावधानों के तहत उसका गर्भपात कराने के लिए हाई कोर्ट की इजाजत मांगी थी। यह कानून 12 सप्ताह से कम का गर्भ होने की स्थिति में एक डॉक्टर के पैनल की देखरेख में गर्भपात की इजाजत देता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App