ताज़ा खबर
 

मरीज से 32Km दूर बैठकर रोबोट के जरिए की हार्ट सर्जरी, जानें कैसे हुआ संभव

गुजरात में मशहूर हार्ट सर्जन डॉ. तेजस पटेल और उनकी टीम ने रोबोट की सहायता से हार्ट सर्जरी कर एक नया रिकार्ड कायम किया।

डॉक्टर तेजस पटेल फोटो सोर्स- फेसबुक

गुजरात में बुधवार को एक ऐसी सर्जरी को अंजाम दिया गया जिसमें डॉक्टर अपने मरीज से करीब 32 किलोमीटर दूर बैठे थे। मशहूर हार्ट सर्जन डॉ. तेजस पटेल और उनकी टीम ने अक्षरधाम में बैठकर अहमदाबाद स्थित अपने अपेक्स हार्ट इंस्टिट्यूट में रोबोट की सहायता से हार्ट सर्जरी कर एक नया रिकार्ड कायम किया। दावा किया जा रहा है कि ये दुनिया का पहला परक्युटेनियस कोरोनरी इंटरवेंशन है, जिसे कैथेराइजेशन लैब के बाहर से किया गया है।

दरअसल, अहमदाबाद के एपेक्स इंस्टिट्यूट के चेयरमैन और चीफ इंटरवेंशन कार्डियोलोजिस्ट डॉक्टर तेजस पटेल गांधीनगर के अक्षरधाम में थे, जबकि मरीज यहां से करीब 32 किलोमीटर दूर अहमदाबाद के एपेक्स हार्ट इंस्टिट्यूट में भर्ती था। जिस वक्त यहां ऑपरेशन हो रहा था, उस वक्त मरीज के साथ दूसरे डॉक्टर भी मौजूद थे। यह ऑपरेशन रोबोट से किया गया। ऑपरेशन कर मरीज के हृदय में वाल्व लगाया गया। डॉक्टर तेजस पटेल ने दूर बैठकर इन्टरनेट के माध्यम से इस आपरेशन को संचालित किया।

तकरीबन दो साल पहले अपेक्स हार्ट इंस्टिट्यूट ले लिए डॉक्टर तेजस पटेल ने यह रोबोट सिस्टम करीब 9.50 करोड़ रुपए की लागत से खरीदा था। इस रोबोट की सहायता से कई और सर्जरी की गई, लेकिन कैथलैब से 32 किलोमीटर दूर रहकर रोबोट को निर्देश देकर सर्जरी को अंजाम पहली बार दिया गया, जो मेडिकल साइंस में एक बड़ी उपलब्धि मानी जा रही है।

गौरतलब है कि एक अध्ययन के मुताबिक, स्ट्रोक सहित दिल की बीमारियों के कारण दुनिया भर में हर साल लगभग 18 लाख मौतें होती हैं। डॉक्टर तेजस पटेल का कहना है कि इस सर्जरी से ग्रामीण भारत में दिल की बीमारियों को लेकर भी बदलाव आयेगा। टेलीरोबोटिक्स में ऐसे मरीजों को इलाज उपलब्ध करा कर बचाने की क्षमता है। इस दौरान गुजरात के मुख्यमंत्री विजयभाई रुपाणी, उपमुख्यमंत्री नितिन भाई पटेल तथा बोचासनवासी अक्षर पुरोषत्तम स्वामी नारायण संस्थान के संत पूज्यश्री ब्रह्मवीरस्वामी और ईश्वरचरणस्वामी समेत कई और प्रमुख उपस्थित थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App