scorecardresearch

Gujarat Election: कांग्रेस ने लगाई वादों की झड़ी! सत्ता में आने पर किसानों का तीन लाख रुपये तक का कर्जा माफ, 10 घंटे फ्री बिजली

गुजरात विधान सभा चुनाव-2017 में कांग्रेस ने बीजेपी को कड़ी टक्कर दी थी। जिसमें 77 सीटों पर कांग्रेस, जबिक 99 सीटों पर बीजेपी को जीत हासिल हुई थी।

Gujarat Election: कांग्रेस ने लगाई वादों की झड़ी! सत्ता में आने पर किसानों का तीन लाख रुपये तक का कर्जा माफ, 10 घंटे फ्री बिजली
गुजरात चुनाव को लेकर कांग्रेस का बड़ा ऐलान। (फोटो सोर्स: ANI)

Gujarat Assembly Elections: गुजरात में विधानसभा चुनाव 2022 के दिसंबर माह में होने की संभावना जताई जा रही है। जिसको लेकर सभी राजनैतिक पार्टियां जनता से लोक-लुभावन वादे कर रही हैं। इस कड़ी में अब कांग्रेस पार्टी ने बड़ा ऐलान किया है।

कांग्रेस ने कहा कि अगर वो सत्ता में आती है तो किसानों के तीन लाख रुपए तक के कर्ज माफ किए जाएंगे। साथ ही किसानों को रोजाना 10 घंटे बिजली फ्री दी जाएगी। गुजरात कांग्रेस अध्यक्ष जगदीश ठाकोर ने यह भी कहा कि उनकी पार्टी न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) से नीचे कृषि उपज की खरीद पर रोक लगाने के लिए एक कानून लाएगी।

ठाकोर ने कहा, ‘गुजरात में किसान भारी कर्ज के बोझ तले दबे हैं, लेकिन भाजपा ने राहत देने के बजाय उद्योगपतियों का कर्ज माफ कर दिया। सत्ता में आने के बाद पहली कैबिनेट बैठक में कांग्रेस 3 लाख रुपये से कम के सभी कृषि ऋणों को समाप्त करने का निर्णय करेगी।’ ठाकोर ने वादा किया कि कांग्रेस सरकार किसानों से 20 किलो कृषि उपज की खरीद पर अतिरिक्त 20 रुपये का बोनस भी देगी।

कांग्रेस द्वारा किए गए अन्य वादों में राज्य में सहकारी निकायों में महिलाओं के लिए 33 प्रतिशत आरक्षण भी शामिल है। ठाकोर ने कहा कि उनकी पार्टी कांग्रेस जो गुजरात में 1995 से सत्ता से बाहर है, सभी पशुपालकों को ‘किसान’ का दर्जा देगी, जो उन्हें कृषि भूमि खरीदने के लिए सशक्त बनाएगी।

गुजरात सरकार द्वारा उपग्रह मानचित्रण का उपयोग करके नए भूमि रिकॉर्ड तैयार करने में अनियमितताओं और भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कांग्रेस नेता ने इसे रद्द करने और “वैज्ञानिक तरीके से” नए सिरे से मानचित्रण अभ्यास करने का भी वादा किया।

बता दें, पिछले विधानसभा के चुनाव में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सामने कांग्रेस ने कड़ी चुनौती पेश की थी और सत्तारूढ़ भाजपा के खिलाफ कुल मिलाकर काफी बेहतर प्रदर्शन किया था। जिसमें भाजपा को विधानसभा में 99 सीटें मिलीं थीं, जबकि बहुमत का आंकड़ा 92 है। वहीं कांग्रेस ने 77 सीटें जीतने के साथ ही भाजपा को कड़ी टक्कर दी थी, लेकिन वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य से भाजपा के शासन को बाहर नहीं कर सकी थी।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट