ताज़ा खबर
 

Gujarat: जख्मी महिला को देख सीएम विजय रूपाणी ने रुकवाई गाड़ी, खुद उतरकर की महिला की मदद

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने हाल ही में कुछ ऐसा किया जिसकी सोशल मीडिया पर कई लोग तारीफ कर रहे हैं।

Author Published on: January 8, 2019 1:46 PM
विजय रूपाणी, फोटो सोर्स- dave_janak (ट्विटर)

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने हाल ही में कुछ ऐसा किया जिसकी सोशल मीडिया पर कई लोग तारीफ कर रहे हैं। बता दें कि विजय रूपाणी अपने दस्ते के साथ कहीं जा रहे थे लेकिन रास्ते में उन्होंने देखा कि एक महिला जख्मी हालत में हैं। तो उन्होंने उस ही जगह पर अपना दस्ता रुकवाकर महिला की मदद के लिए गाड़ी से उतर गए। गाड़ी से नीचे उतरकर उन्होंने फौरन जख्मी महिला को अस्पताल पहुंचाने का काम किया। यही नहीं इसके साथ ही उन्होंने प्रशासन और अस्पताल को महिला के सही और बिना किसी गड़बड़ी के उपचार के आदेश दिए।

27 दिसंबर को भी की थी मदद: गौरतलब है कि ये पहली बार नहीं है जब विजय रूपाणी ने किसी की मदद के लिए अपने काम टाल दिए हो। बता दें कि 27 दिसंबर की रात सीएम विजय रूपाणी अहमदाबाद जा रहे थे। अहमदाबाद जाते वक्त गांधीनगर के रायसेन के पास उन्होंने देखा की रास्ते में किसी का एक्सीडेंट हो गया है। ये देख उन्होंने बिना जरा भी वक्त गवाए उन्होंने अपने सारे काम मौके पर ही टाल दिए और खुद गाड़ी से उतरकर मदद करने लगे। इसके साथ ही उन्होंने अपने दस्ते से प्रशासन को मदद करने के लिए बुलावाया और तुरंत ही घायलों को अस्पताल रवाना करवाया। सीएम विजय रूपाणी खुद प्रशासन को आदेश देते रहे और किसी भी तरह की लापरवाही न हो इसलिए मौका-ए- वारदात पर मौजूद रहे थे। बता दें इस हादसे में किसी की मौत नहीं हुई थी।

हाल ही में स्वीकारा था भ्रष्टाचार
बता दें कि हाल ही में बुधवार को मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने स्वीकार किया था कि दो विभागों में जबरदस्त भ्रष्टाचार है। जिसमें उन्होंने कहा कि राजस्व विभाग में भ्रष्टाचार शीर्ष पर है और दूसरे नंबर पर पुलिस विभाग है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इससे निपटना एक बड़ी चुनौती है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Gujarat: पूर्व भाजपा विधायक जयंती भानुशाली की गोली मारकर हत्या, आंख- सीने पर मारी गोली, गिरफ्त से बाहर आरोपी
2 पुणे: 5 साल में 1000 दोपहिया वाहन सवारों की मौत, सिर्फ तीन लोगों ने पहना था हेलमेट
3 जानलेवा बनीं सर्द हवाएंः कम तापमान से बढ़ा ब्रेन-हार्ट अटैक का खतरा, ग्वालियर में एक हफ्ते में 10 की मौत
जस्‍ट नाउ
X