scorecardresearch

Gujarat Assembly Election Results: शाह, पाटिल और रत्नाकर…वो तिकड़ी जिसने गुजरात में BJP को दिलाई बंपर जीत

Gujarat Assembly Election Results: गुजरात में बीजेपी ने जीत के सभी रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए। पार्टी ने 1985 के कांग्रेस के 149 सीटों पर जीत के रिकॉर्ड को तोड़ा है।

Gujarat Assembly Election Results: शाह, पाटिल और रत्नाकर…वो तिकड़ी जिसने गुजरात में BJP को दिलाई बंपर जीत
Gujarat Assembly Elections: रत्नाकर, अमित शाह और सीआर पाटिल (फोटो सोर्स: @ratnakar273/ पीटीआई/ @CRPatil)

गुजरात (Gujarat) में बीजेपी (BJP) अब तक की सबसे बड़ी जीत हुई है। इस जीत का पूरा श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को जाता है। ऐसा बीजेपी के दिग्गज नेता भी मानते हैं। लेकिन गुजरात में बीजेपी की बड़ी जीत में तीन नेताओं का सबसे बड़ा हाथ है। इन नेताओं में देश के गृहमंत्री और पूर्व बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah), गुजरात बीजेपी अध्यक्ष सीआर पाटिल (Gujarat BJP President CR Patil) और गुजरात के संगठन महामंत्री रत्नाकर (Ratnakar) शामिल हैं।

अमित शाह ने संभाली थी गुजरात की कमान

बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुजरात चुनाव के लिए बीजेपी की पूरी कमान अपने हाथ में ली थी। चुनाव से जुड़े जो भी फैसले बीजेपी ने लिए, उसमे अमित शाह की छाप थी। विधानसभा स्तर से लेकर पूरे प्रदेश पर अमित शाह ने अपनी नजर बनाए रखी। जब टिकट का बंटवारा हो रहा था उस दौरान भी अमित शाह ही थे, जिन्होंने बड़ी संख्या में टिकट काटने का फैसला किया। हालांकि ये सारे फैसले बीजेपी की चुनाव समिति लेती है। लेकिन कई राज्य के नेता भी मानते हैं कि चुनाव में टिकट ऊपर (पीएम मोदी और अमित शाह) से तय हुए।

अमित शाह ने चुनाव के दौरान 50 से अधिक रैलियां कीं और दिनभर रैलियां करने के बाद वो देर रात के नेताओं के साथ बैठक करते थे। ऐसा नहीं कि अमित शाह केवल बड़े नेताओं के साथ बैठक करते थे, बल्कि वो बीजेपी के बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से भी मिलते थे और फीडबैक लेते थे।

प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल की भूमिका अहम

अमित शाह के बाद प्रदेश में सीआर पाटिल की जिम्मेदारी सबसे अधिक थी, क्योंकि प्रदेश बीजेपी की कमान इन्हीं के हाथों में है। अमित शाह के निर्देशों को जमीन पर उतारना, उन्हें लागू करना, इन सबकी जिम्मेदारी सीआर पाटिल के हाथों में थी। सीआर पाटिल ने पूरे चुनाव के दौरान हर एक जिले की अधिकतर सीटों का दौरा किया और बीजेपी उम्मीदवारों की जीत और बूथ मैनेजमेंट का ध्यान रखा। बता दें कि गुजरात में बीजेपी ने 156 सीटों पर जीत हासिल की है।

Himachal Pradesh Election Result Update Gujarat Vidhan Sabha Chunav Result News Updates By-Election Assembly Election Results Gujarat Himachal Assembly Election Results 2022 Live Updates

संगठन महामंत्री रत्नाकर ने पूरी रणनीति को जमीन पर उतारा

गुजरात बीजेपी के प्रदेश संगठन महामंत्री रत्नाकर ने गुजरात बीजेपी की जीत में सबसे अहम भूमिका निभाई। केंद्रीय नेतृत्व के जो भी निर्देश थे, उन्हें बूथ स्तर तक लागू कराने की जिम्मेदारी रत्नाकर पर थी। रत्नाकर को चुनाव के लिए ही भेजा गया था। इनकी नियुक्ति 2021 अगस्त में हुई थी। इसके पहले रत्नाकर बीजेपी के काशी और गोरखपुर प्रान्त में क्षेत्रीय संगठन मंत्री की जिम्मेदारी निभा चुके हैं। टिकट न मिलने से नाराज नेताओं को मनाना भी एक बड़ी चुनौती थी, लेकिन इसको रत्नाकर ने बखूबी निभाया।

रत्नाकर ने गुजरात की जिम्मेदारी मिलने के बाद उन्होंने प्रदेश का दौरा आरंभ किया। साल भर के अंदर उन्होंने राज्य में 5 बार प्रवास किया। बूथ, मंडल एवं जिले के कार्यकर्ताओ से सीधा संपर्क किया। साथ ही युवा विस्तारकों की टोली को प्रत्येक विधानसभा में लगाया एवं देश भर के बेहतरीन कार्यकर्ताओं को 3 महीने पहले से ही प्रवासी के रूप में बूथ को दुरुस्त करने के काम में लगवा दिया।

बूथ स्तर तक कार्यकर्ताओं पर नजर रखना, उनको काम के लिए प्रेरित करना, उनका उत्साह बढ़ाना ये सब आसान काम नहीं होता लेकिन ये जिम्मेदारी रत्नाकर ने बखूबी निभाई। वैसे भी बीजेपी में प्रदेश संगठन मंत्री का पद किसी भी प्रदेश में सबसे महत्वपूर्ण होता है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 08-12-2022 at 05:22:05 pm
अपडेट