scorecardresearch

Gujarat Assembly Election 2022: समोसे-पकौड़े तलने से लेकर गरबा की धुन पर नाचने तक, गुजरातियों का दिल जीतने की हर कोशिश में लगी AAP

Gujarat Election: गुजरात में विधानसभा की कुल 182 सीटें हैं। 2017 में भाजपा ने 99 सीटें जीती थीं। वहीं कांग्रेस के खाते में 77 सीटें आई थीं।

Gujarat Assembly Election 2022: समोसे-पकौड़े तलने से लेकर गरबा की धुन पर नाचने तक, गुजरातियों का दिल जीतने की हर कोशिश में लगी AAP
अरविंद केजरीवाल और भगवंत मान (express file photo by gurmeet singh)

Gujarat Assembly Election: गुजरात चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही राज्य में पहली बार मैदान में उतरी आम आदमी पार्टी (AAP) कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। समोसे और पकौड़े तलने से लेकर गरबा की धुन पर नाचने तक, गुजरात में चुनाव प्रचार कर रहे पंजाब के आप के नेताओं ने गुजरात वासियों का दिल जीतने की कोशिश में हर चीज में हाथ आजमाया है।

1 दिसंबर 2022 से शुरू हो रहे विधानसभा चुनाव से पहले पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant Mann) और उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों सहित पंजाब आप के कई नेता गुजरात में प्रचार कर रहे हैं। अधिकांश ने घर-घर जाकर प्रचार किया है। कैबिनेट मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल जैसे कुछ अन्य लोगों ने एक कदम आगे जाकर मतदाताओं के लिए समोसे और पकौड़े तलने के साथ-साथ चाय भी बनाई है।

कुलदीप सिंह धालीवाल ने बनाए समोसे-पकौड़े: धालीवाल को ट्विटर पर अपलोड किए गए एक वीडियो में अपने पाक कौशल का प्रदर्शन करते देखा गया। वीडियो के कैप्शन में लिखा था, “उन्होंने गुजरात के राजकोट दक्षिण विधानसभा क्षेत्र में आप उम्मीदवार शिवलाल बरसिया के पक्ष में प्रचार करते हुए उन्होंने कुछ समोसे, पकौड़े और भजिया बनाकर जनता की राय जानने की कोशिश की। इस बार जनता ने केजरीवाल सरकार का फैसला किया है।” गुरुवार को वे पार्टी कार्यकर्ताओं को चाय परोसते और कहते नजर आए कि एक प्याला चाय से ताजगी आ जाती है, दिन भर की मेहनत के बाद।

AAP का डोर-टू-डोर अभियान: वहीं, पंजाब के सीएम मान को राज्य में चुनाव प्रचार के दौरान गरबा पर डांस करते देखा गया। कई पंजाबी नेताओं को गुजराती में नारा लगाते हुए सुना जाता है, “एक मोको केजरीवाल ने (केजरीवाल को एक अवसर दें)।” एक तरफ जहां सीएम मान हर वीकेंड गुजरात का दौरा कर रहे हैं। उनके 20 नवंबर से राज्य में पहुंचने की संभावना है। इस बीच पंजाब विपक्ष ने उन पर अपने राज्य में कानून-व्यवस्था बिगड़ने के बावजूद अनुपस्थित रहने का आरोप लगाया है।

गुजरात में चुनाव प्रचार करने वाले आप मंत्रियों में अमन अरोड़ा, डॉ इंदरबीर सिंह निज्जर, अनमोल गगन मान और चेतन सिंह जौरामाजरा शामिल हैं। उनमें से अधिकांश डोर-टू-डोर अभियान के साथ व्यक्तिगत संपर्क कार्यक्रम चला रहे हैं।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 19-11-2022 at 08:33:20 am
अपडेट