ताज़ा खबर
 

यमुना एक्सप्रेस वे पर रेप की कोशिश, बंधक बनाकर परिवार को लूटा, एक शख्स की हत्या

पीड़ित परिवार जेवर से बुलंदशहर जा रहा था।

ग्रेटर नोएडा का यमुना एक्सप्रेस वे

ग्रेटर नोएडा के यमुना एक्सप्रेस वे पर रेप की कोशिश, लूट और हत्या की वारदात सामने आई है। बदमाशों ने कार सवाल लोगों को बंधक बनाकर लूटा। इस दौरान एक 25 वर्षीय शख्स की हत्या भी कर दी गई। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, कार में सवार महिलाओं से रेप की कोशिश भी कई गई। परिवार जेवर से बुलंदशहर जा रहा था।

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, थाना जेवर क्षेत्र के साबौता गांव के पास बीती रात हथियारबंद आधा दर्जन बदमाशों ने एक कार कार में सवार होकर जा रहे एक परिवार के साथ लूटपाट की। विरोध करने पर बदमाशों ने परिवार के मुखिया की गोली मारकर उसकी हत्या कर दी तथा कार में सवार चार महिलाओं के साथ बलात्कार किया। घटना की सूचना पाकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लव कुमार ने बताया कि जेवर के रहने वाले शकील कुरैशी का रिश्तेदार जनपद बुलंदशहर में एक अस्पताल में भर्ती था। उसकी तबियत बिगड़ने पर ये लोग बीती रात करीब दो बजे कार में सवार होकर अपने रिश्तेदार को देखने के लिए जेवर से बुलंदशहर के लिए निकले। साबौता गांव के पास आधा दर्जन बदमाशों ने उनकी कार के टायर में गोली मार दी।

कुमार ने बताया कि जैसे ही गाड़ी रुकी, बदमाशों ने पूरे परिवार को हथियारों के बल पर बंधक बना लिया। बदमाशों ने उनके साथ लूटपाट शुरू कर दी। परिवार ने जब लूटपाट का विरोध किया तो बदमाशों ने शकील कुरैशी को गोली मार दी जिससे उनकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि लुटेरों ने शफीक आजाद दिलावर के साथ मारपीट कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया। बदमाशों ने 44 हजार रुपए नकद और महिलाओं के जेवरात लूट लिए ।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पीड़ित परिवार की चार महिलाओं का कहना है कि बदमाशों ने उनके साथ हथियारों के बल पर बलात्कार किया। पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कर रही है और महिलाओं का मेडिकल कराया जा रहा है। घटना के चलते लोगों में भारी रोष है तथा उन्होंने आज सुबह पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। इस घटना ने बुलंदशहर राजमार्ग पर हुई लूट और बलात्कार की घटना की याद को ताजा कर दिया है।

देश का सबसे लंबा पुल हुआ तैयार, पीएम मोदी कल करेंगे उद्घाटन

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App