ताज़ा खबर
 

Noida: घुमाने के बहाने बहन को साथ ले गए थे 2 भाई, रास्ते में कार से खींचकर निकाला और चेहरे पर डाल दिया तेजाब, आंखों की रोशनी गई

ग्रेटर नोएडा में तेजाब हमले में एक युवती ने अपनी आंखों की रोशनी गंवा दी। इस हमले के लिए युवती ने अपने ही भाइयों को जिम्मेदार ठहराया है।

प्रतीकात्मक चित्र फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में एक युवती की तेजाब हमले (Acid Attack) के बाद आंखों की रोशनी चली गई। बताया जा रहा है कि तेजाब हमले से पीड़ित युवती का चेहरा और गले के पास का भाग पूरी तरह से झुलस गया है। युवती ने अपने ही दो भाइयों को इस हमले का जिम्मेदार ठहराया है। फिलहाल उसका इलाज सफदरजंग अस्पताल में चल रहा है।

National Hindi News, 10 May 2019 LIVE Updates: दिनभर की बड़ी खबरों के लिए क्लिक करें

भाइयों पर हमले का आरोप: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 22 वर्षीय तेजाब हमले की पीड़ित युवती बुलंदशहर के गुलावटी गांव की रहने वाली है। उसने अपने ही दो सगे भाइयों का नाम हमलावर के तौर पर बताया है और साथ ही कहा कि इसके पहले भी उन्होंने उसे मारने की कोशिश की थी। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ एसिड अटैक से संबंधित आईपीसी की धारा 326 और हत्या की कोशिश की धारा 307 के तहत मामला दर्ज कर, जांच शुरू कर दी है।

पुलिस का बयान: टाइम्स नाउ में छपी खबर के मुताबिक पुलिस उपाधीक्षक दादरी अविनाश कुमार ने बताया कि बुलंदशहर के गुलावठी गांव निवासी हफजी की बेटी सलमा को उसके ही दो सगे भाईयों इरफान और रिजवान ने रिश्तेदार के घर ले जाने के बहाने कार से बाहर लेकर आए। इस दौरान भाइयों ने उसे कर से बाहर निकाला और उसके ऊपर तेजाब डालकर उसे नहर के पास फेंक दिया।

कहां पर हुई घटना: बताया जा रहा घटना दादरी थाना क्षेत्र के जीटी रोड स्थित कोट पुल के पास युवती को जान मारने की नीयत से उसके ही दो सगे भाइयों ने तेजाब से हमला कर दिया और फिर मौके से फरार हो गए। तेजाब से युवती का वह 50 फीसदी से भी ज्यादा शरीर झुलस गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App