ताज़ा खबर
 

MP गवर्नर का कॉलेजों को निर्देश: मनाएं योग दिवस और सबूत के तौर पर राजभवन को भेजें तस्वीरें

इस मामले पर राजनीति भी शुरू हो चुकी है। कांग्रेस प्रवक्ता मानक अग्रवाल ने एक न्यूज चैनल से बातचीत करते हुए कहा कि गवर्नर का योगा पर जोर देना सही है लेकिन राज्य सरकार के कार्यों में उन्हें सीधे दखलअंदाजी नहीं करना चाहिए।

मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल। (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश की गवर्नर आनंदी बेन पटेल ने राज्य के यूनिवर्सिटी और कॉलेजों को आदेश दिया है कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर वो योग जरूर मनाएं। इतना ही नहीं राज्यपाल ने यह भी आदेश दिया है कि योग मनाने का वीडियो और फोटोग्राफ भी सबूत के तौर पर उन्हें उपलब्ध कराया जाए। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने एक सर्कुलर जारी करते हुए कहा है कि सभी यूनिवर्सिटी में योग दिवस बड़े पैमाने पर मनाया जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि इसमें ज्यादा से ज्यादा लोगों की भागीदारी तय की जा सके।

राज्यपाल ने राजीव गांधी टेक्निकल यूनिवर्सिटी को इस इवेंट के लिए को-ऑडिनेटर बनाया है। निर्देश दिये गये हैं कि शिक्षण संस्थान योग दिवस के दिन की तस्वीरें और सीडी राज्यपाल को जरुर उपलब्ध कराएं। राजभवन की तरफ से विश्वविद्यालयों को यह भी निर्देश जारी किया गया है कि इस दिन सेमिनार, डिबेट्स, सहित दूसरे इवेंट आयोजित किये जाएं। को-ऑर्डिनेटर बनाए जाने के बाद से RTGU ने सभी शिक्षण संस्थानों को राजभवन के आदेश से परिचित करा दिया है।

इधर इस मामले पर राजनीति भी शुरू हो चुकी है। कांग्रेस प्रवक्ता मानक अग्रवाल ने एक न्यूज चैनल से बातचीत करते हुए कहा कि गवर्नर का योगा पर जोर देना सही है लेकिन राज्य सरकार के कार्यों में उन्हें सीधे दखलअंदाजी नहीं करना चाहिए। इधर बीजेपी के प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा है कि गवर्नर शिक्षण संस्थानों को आदेश दे सकती है। योगा डे को लेकर गवर्नर के आदेश में कुछ भी गलत नहीं है। 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। इस दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद दिल्ली में लोगों के बीच बैठकर योग करते हैं।

आपको याद दिला दें कि मध्य प्रदेश का गवर्नर बनने के बाद आनंदीबने पटले ने राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की स्थिति एवं विभिन्न विभागों के परफॉरमेंस से संबंधित रिपोर्ट भी मांगे थे। राज्यपाल के इस कदम को लेकर उस वक्त काफी विवाद भी हुआ था। आनंदीबेन पटेल गुजरात की मुख्यमंत्री भी रह चुकी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App