ताज़ा खबर
 

हज सबसिडी के अध्ययन के लिए गठित समिति जल्द देगी रिपोर्ट: नकवी

मुख्तार अब्बास नकवी ने शनिवार को कहा कि हज सबसिडी से जुड़े विभिन्न आयामों के अध्ययन के लिए एक विशेष समिति का गठन किया गया है, जो जल्द अपनी रिपोर्ट पेश करेगी।

Author मुंबई | January 22, 2017 2:28 AM
मुख्तार अब्बास नकवी

मुख्तार अब्बास नकवी ने शनिवार को कहा कि हज सबसिडी से जुड़े विभिन्न आयामों के अध्ययन के लिए एक विशेष समिति का गठन किया गया है, जो जल्द अपनी रिपोर्ट पेश करेगी। उन्होंने साथ ही स्पष्ट किया कि हज 2017 में हज सबसिडी खत्म नहीं होगी। अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने कहा कि हज कमेटी के माध्यम से जाने वाले हज यात्रियों की हज सबसिडी के संबंध में कई तरह की मांगें सामने आई हैं, साथ ही 2012 का सुप्रीम कोर्ट का निर्णय भी है। इस मामले में संपूर्ण रूप से एक छह सदस्यीय विशेषज्ञ समिति अध्ययन कर रही है, वह अपनी रिपोर्ट जल्द देगी। नकवी ने साफ किया कि नई व्यवस्था लागू होने पर भी किसी तरह का बड़ा बोझ हज यात्रियों पर नहीं पड़ेगा। नकवी ने यह भी स्पष्ट किया कि हज 2017 में हज सबसिडी खत्म नहीं होगी। मुंबई में आॅल इंडिया हज उमराह टूर आर्गनाइजर्स एसोसिएशन की बैठक के दौरान नकवी ने कहा कि भारत में हज के लिए आवेदन 2 जनवरी, 2017 से शुरू हो गए हैं। आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 24 जनवरी, 2017 है। भारत में पहली बार हज आवेदन प्रक्रिया पूरी तरह से डिजिटल हो गई है। इसी महीने हज का मोबाइल एप भी लांच किया गया है। हज 2017 आवेदन की प्रक्रिया को आॅनलाइन करने का लोगों ने जबरदस्त स्वागत किया है।

नकवी ने कहा कि अभी तक लगभग तीन लाख से ज्यादा लोगों ने आवेदन किया है, जिसमें से एक लाख से अधिक लोगों ने आॅनलाइन आवेदन किया है। आॅनलाइन आवेदन से लोगों को पारदर्शिता के साथ हज पर जाने का मौका मिलेगा। नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय हज 2017 के लिए हज यात्रियों को बेहतर से बेहतर सुविधा मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध है और इसके लिए मंत्रालय ने कई कदम उठाए हैं। हज आवेदन प्रक्रिया को पूरी तरह से डिजिटलाइज करना इस दिशा में महत्त्वपूर्ण कदम है।

नकवी ने कहा कि हज 2017 में भारत से 34,500 अधिक हज यात्री हज पर जाएंगे। यह निर्णय उनकी सऊदी अरब की यात्रा के दौरान लिया गया। वर्षों बाद भारत से हज पर जाने वाले यात्रियों की संख्या में इतनी बड़ी वृद्धि की गई है। उनकी यात्रा के दौरान सऊदी अरब की सरकार से हाजियों की सुविधाओं, निवास, यातायात, सुरक्षा आदि महत्त्वपूर्ण विषयों पर भी चर्चा हुई थी। उल्लेखनीय है कि हज 2016 में देश भर में 21 केंद्रों से लगभग 99,903 हाजियों ने हज कमेटी आॅफ इंडिया के जरिए हज किया और लगभग 36 हजार हाजियों ने प्राइवेट टूर आपरेटरों के जरिए हज की अदायगी की।

नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय आने वाले हज के बेहतर इंतजाम की तैयारी में अभी से ही व्यापक पैमाने पर लग गया है। मक्का और मदीना में हज यात्रा के दौरान हाजियों को किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो इसके लिए हाजियों को ट्रेनिंग देने में हज कमेटी आॅफ इंडिया और राज्यों की हज कमेटियों को अभी से ट्रेनिंग कैंपों की योजना बनानी चाहिए। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय ने हाजियों को ट्रेनिंग देने के लिए 10-15 मिनट की एक फिल्म तैयार की है, जिसमें हाजियों के लिए तमाम बातों की जानकारी होगी। यह फिल्म हाजियों के लिए आयोजित किए जाने वाले ट्रेनिंग कैंपों में भी दिखाई जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App