ताज़ा खबर
 

29,350 रुपय हुआ सोना, चांदी में भी आई बढ़त

सकारात्मक वैश्विक संकेतों तथा शादी ब्याह के मौसम को देखते हुये स्थानीय मांग बढ़ने से सोना आज 60 रुपय सुधरकर 29,350 रुपय प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया।

दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 100 रुपये की तेजी के साथ 29,350 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया (File Photo)

सकारात्मक वैश्विक संकेतों तथा शादी ब्याह के मौसम को देखते हुये स्थानीय मांग बढ़ने से सोना आज 60 रुपय सुधरकर 29,350 रुपय प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया।  औद्योगिक इकाइयों तथा सिक्का विनिर्माताआें का उठाव बढ़ने से चांदी भी 25 रुपय बढ़कर 41,825 रुपय प्रति किलोग्राम पर पहुंच गया। कारोबारियों ने कहा कि पश्चिम एशिया और कोरियाई प्रायद्वीव में भू-राजनीतिक तनाव बढ़ने की वजह से निवेशक निवेश का अधिक सुरक्षित विकल्प चुन रहे हैं। ऐसे में सोने की मांग बढ़ी है।

घरेलू हाजिर बाजार में शादी विवाह के मौसम की मांग से भी सोने में तेजी आई। वैश्विक स्तर पर सिंगापुर में सोना 0.25 प्रतिशत बढ़कर 1,257.50 डॉलर प्रति औंस तथा चांदी 0.08 प्रतिशत की बढ़त के साथ 17.94 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गई। राष्ट्रीय राजधानी में सोना 99.9 तथा 99.5 प्रतिशत शुद्धता 60-60 रुप की बढ़त के साथ क्रमश: 29,350 रुपय प्रति दस ग्राम तथा 29,200 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया। कल इसमें 10 रुपए की गिरावट आई थी।

हालांकि, गिन्नी 24,400 रुपए प्रति आठ ग्राम पर स्थिर रही। चांदी हाजिर भी 25 रुपय  की बढ़त के साथ 41,825 रुपए प्रति किलोग्राम तथा साप्ताहिक डिलिवरी इतनी ही बढ़त के साथ 41,395 रुपय प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। चांदी सिक्का, हालांकि, 71,000 रुपए प्रति सैंकड़ा (लिवाल) तथा बिकवाल 72,000 रुपय प्रति सैंकड़ा पर कायम रहा।

आपको बता दें कि सोने-चांदी में लगातार बढ़ोत्तरी की वजह अमेरिका द्वारा सीरिया पर हमला बताई जा रही है। अमेरिका ने सीरिया पर हमला किया था। 6 अप्रैल की रात किए गए इस हमले का असर पूरी दुनिया में देखने को मिल सकता है। इस हमले के बाद से ही तेल की कीमतों में उछाल आ गया है। हमले के बाद सवाल उठ रहा है कि भारत जैसे देश जो 80% तेल मध्य पूर्वी देशों से आयात करते हैं। क्या उनके आयात की कीमतों पर असर पड़ेगा? हमले के बाद बाजार में हलचल हुई है और कुछ एक्सपर्ट्स ने भी इस बारे में अपनी राय जाहिर की है। सीरिया की असद सरकार से नाराज होकर ट्रंप के आदेश के बाद अमेरिका ने सीरिया में एयरबेस समेत अलग-अलग सैन्य ठिकानों पर 59 टॉमहॉक मिसाइल दागीं। अमेरिका ने यह कार्रवाई केमिकल अटैक के खिलाफ की है। ट्रंप प्रशासन का मानना है कि केमिकल हमलों के पीछे असद सरकार का हाथ है। कैमिकल हमले में बच्चों और महिलाओं समेत 100 से ज्यादा जानें जा चुकी हैं।

सीरिया में अटैक के बाद अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में हलचल हुई है। इसकी वजह से कच्चे तेल की कीमत में 1.2 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। बढ़ोतरी के बाद कच्चे तेल की कीमत 55.59 डॉलर प्रति बैरल हो गई है। वहीं सोने की कीमत में 0.99% की बढ़ोतरी हुई है। चांदी की कीमत में 0.93% की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। आपको बता दें कि सीरिया मुख्य तेल उत्पादक देशों में नहीं है। सीरिया ऑर्गेनाइजेशन ऑफ पेट्रोलियम एक्सपोर्टिंग कंट्रीज (OPEC) का सदस्य भी नहीं है। भारत के ऊर्जा विशेषज्ञों का मानना है कि यह बढ़ोतरी सिर्फ एक बार के लिए थी। कीमतों के लिहाज से आगे स्थिति खराब नहीं होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App