ताज़ा खबर
 

Goa: डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो बोले- पर्रिकर की हालत में सुधार नहीं, पार्टी कर रही दूसरे विकल्पों पर विचार

डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने बताया कि सीएम पर्रिकर की हालत में सुधार नहीं है। ऐसे में पार्टी उनके विकल्पों पर विचार कर रही है। वहीं, कांग्रेस ने राज्य में सरकार बनाने के लिए गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मुलाकात के लिए वक्त मांगा है।

Author March 17, 2019 11:49 AM
गोवा मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर फोटो सोर्सः PTI

Smita nair

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की सेहत को लेकर पहली बार बीजेपी खुलकर सामने आई है। डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने शनिवार शाम (16 मार्च) को बताया कि सीएम पर्रिकर की हालत में सुधार नहीं है। ऐसे में पार्टी उनके विकल्पों पर विचार कर रही है। वहीं, कांग्रेस ने राज्य में सरकार बनाने के लिए गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मुलाकात के लिए वक्त मांगा है। कांग्रेस का दावा है कि गोवा में उनके पास बहुमत है। ऐसे में उन्हें सरकार बनाने दी जाए।

डिप्टी स्पीकर ने कही यह बात : उप सभापति और बीजेपी नेता माइकल लोबो ने कहा, ‘‘सीएम पर्रिकर की सेहत पर चर्चा करने और गोवा में आगे की रणनीति तय करने के लिए भाजपा की आपातकालीन बैठक बुलाई गई थी। डॉक्टरों का कहना है कि सीएम पर्रिकर की हालत अस्थिर बनी हुई है। उनकी तबीयत में कोई सुधार नहीं है। हमारी पार्टी अब उनके विकल्प पर विचार कर रही है।’’

पर्रिकर जब तक गोवा में, तब तक हमारे मुख्यमंत्री : लोबो ने कहा, ‘‘पर्रिकर जब तक गोवा में हैं, वे तब तक हमारे मुख्यमंत्री बने रहेंगे। हम उनकी सेहत के लिए प्रार्थना कर रहे हैं। अगर उन्हें कुछ हो जाता है तो भी गोवा का अगला सीएम भाजपा से ही होगा। भाजपा अपनी सहयोगी गोवा फॉरवर्ड पार्टी के अध्यक्ष विजयी सरदेसाई से मुलाकात कर आगे की रणनीति तय करेगी।’’

ऐसा है गोवा विधानसभा का हाल : गोवा में विधानसभा की 40 सीटें हैं। इनमें कांग्रेस के पास 14 विधायक हैं, जबकि मौजूदा समय में बीजेपी के पास 13 विधायक हैं। गोवा में बीजेपी की पर्रिकर सरकार को गोवा फॉरवर्ड पार्टी और महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी के तीन विधायकों व तीन निर्दलीयों विधायकों का समर्थन मिला हुआ है।

 

बीजेपी ने बुलाई आपातकालीन बैठकः मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कांग्रेस द्वारा राज्यपाल को पत्र लिखकर समय मांगने के बाद बीजेपी ने पार्टी मुख्यालय में आपातकाल बैठक बुलाई है। पत्र में विपक्षी नेता चंद्रकांत कावलेकर ने लिखा है कि फरवरी में पूर्व कैबिनेट मंत्री फ्रांसिस डिसूजा की मौत के बाद बीजेपी के विधायकों की संख्या घटकर 13 रह गई है। ऐसे में हमारी पार्टी को बहुमत पेश करने का अवसर मिलना चाहिए। कावलेकर ने यह पत्र ईमेल और फैक्स के जरिए राजभवन भेजा।

 

कावलेकर ने की सरकार बनाने की मांगः कावलेकर ने कहा, ‘‘गोवा में इस समय कांग्रेस बहुमत पेश करने की स्थिति में हैं। अगर सरकार बनाने के हमारे दावे के बाद भी राष्ट्रपति शासन लग जाता है तो वह संवैधानिक नहीं माना जाना चाहिए।’’ वहीं, गोवा कांग्रेस अध्यक्ष गिरीश चोडनकर ने कहा, ‘‘हम चाहते तो बीजेपी नेता फ्रांसिस के निधन के बाद ही कांग्रेस बहुमत पेश कर सकते थी, लेकिन हम भी इंसान हैं। हम सीएम का भी सम्मान करते हैं और उनकी सेहत जल्द बेहतर होने की कामना करते हैं।’’

बीजेपी ने साधी चुप्पी : बीजेपी की बैठक के बाद कैबिनेट मंत्री मौविन गोडिन्हो से पर्रिकर की सेहत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि चुनाव आ रहे हैं। हमारी पार्टी उन्हीं की तैयारियों को लेकर व्यस्त है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App