ताज़ा खबर
 

वसंत कुंज में लड़की का अपहरण करने की कोशिश नाकाम

दिल्ली के पाश इलाके वसंत कुंज में मंगलवार रात बदमाशों ने दो लड़कियों को मोटरसाइकिल से अगवा करने की कोशिश की। सफल नहीं होने पर वे लड़कियों से बदतमीजी करने लगे..

Author नई दिल्ली | December 31, 2015 01:02 am
बिहार के मुजफ्फरपुर में स्थित बालिका गृह में यौन शोषण का भंडाफोर हुआ है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

दिल्ली के पाश इलाके वसंत कुंज में मंगलवार रात बदमाशों ने दो लड़कियों को मोटरसाइकिल से अगवा करने की कोशिश की। सफल नहीं होने पर वे लड़कियों से बदतमीजी करने लगे। रात नौ बजे के करीब हुई इस वारदात को जिस मोटरसाइकिल से बदमाश अंजाम दे रहे थे उस पर आगे और पीछे लिखा था ‘विलेन इज बैक’। पीड़ित दोनों छात्राएं घर की तरफ जा थीं। उनके पीछे उनके पिता भी थे। वे पिता से कुछ कदम आगे-पीछे हुईं कि खड़े युवक लड़कियों के साथ बदतमीज़ी कर उन्हें ले जाने की कोशिश करने लगे।

सूत्रों के मुताबिक बदमाशों की इस करतूत का विरोध करते हुए दोनों लड़कियों ने भी हिम्मत दिखाई और पिता के साथ मिलकर उनका विरोध करना शुरू कर दिया। पिता ने मनचलों की इस करतूत पर विरोध जताया और खुद हिम्मत दिखाते हुए हाथापाई शुरू की तो आसपास के लोग भी दौड़कर आने लगे। युवकों ने लड़कियों के साथ इनके पिता के साथ हाथापाई भी शुरू कर दी। स्थानीय लोग बदमाश युवकों को पकड़ पाते इससे पहले ही वे मोटरसाइकिल छोड़ पास की झाड़ियों के रास्ते ही तेज गति से चलकर फरार हो गए। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पीसीआर की पुलिस ने मोटरसाइकिल को कब्जे में लेकर बदमाशों की धरपकड़ शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि वसंत कुंज जैसे पाश इलाके में इस तरह की वारदातों से लोगों में भय और गुस्सा दोनों है। स्थानीय लोगों का कहना है कि यहां पाकेट में बनी फ्लैट में लोग देर रात तक एक-दूसरे के फ्लैट में पैदल ही जाते हैं। महिलाएं खुद को सुरक्षित मानकर खरीदारी भी करने जाती हैं।

फर्जी नंबर प्लेट बनाने वालों की खैर नहीं, धरपकड़ के लिए पुलिस सक्रिय: दिल्ली सरकार के सम-विषम फार्मूले से बचने के लिए फर्जी रजिस्ट्रेशन बनाने वाले और प्रयोग करने वालों की धरपकड़ शुरू कर दी गई है। दिल्ली पुलिस उन तमाम जगहों पर छापेमारी कर रही है, जहां फर्जी नंबर प्लेट बनने की सूचनाएं मिल रही हैं। दिल्ली पुलिस के साथ परिवहन विभाग की टीम उत्तरी दिल्ली के कश्मीरी गेट इलाके में कुछ दुकानदार लोगों को सम-विषम फॉर्मूले से बचाने के लिए फर्जी नंबर तैयार करने के आरोप में हिरासत में लिया है। कश्मीरी गेट में नंबर प्लेट बनाने का बड़ा बाजार है।

पुलिस की टीमें चप्पे-चप्पे पर रहेंगी और इस फार्मूले को बिना किसी बाधा के सफल करेगी। पुलिस का कहना है कि पहले दुकानदारों ने कुछ फर्जी नंबर प्लेट बनाए हैं पर जब से पुलिस और परिवहन विभाग की मुस्तैदी बढ़ी है दुकानदारों में डर पैदा हो गया है और वे नकली ग्राहक बनकर जाने वाले पुलिस वालों को भी मना कर रहे हैं। दुकानदारों ने सावधानी बरतते हुए दुकान के बाहर बोर्ड भी लगा रखे हैं जिस पर लिखा है कि बिना रजिस्ट्रेशन कॉपी के नंबर प्लेट नहीं बनेगी।

सूत्रों के मुताबिक कश्मीरी गेट सहित दिल्ली के कई अन्य इलाके में भी पुलिस की दबिश से पूरे बाजार में हड़कंप मच गया है और दुकानदार ज्यादा सतर्क हो गए हैं। पुलिस का कहना है कि ऐसी मुहिम आगे भी जारी रहेगी। उत्तरी दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों के मुताबिक इस तरह के इनपुट लगातार आ रहे हैं कि कई दुकानदार फर्जी नंबर प्लेट तैयार कर रहे हैं। इसीलिए पुलिस को सादे कपड़ों में भेजकर जांच की जा रही है। अगर कोई फर्जी नंबर प्लेट बनाते पकड़ा गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App