ताज़ा खबर
 

केरल: अपने दिल की सर्जरी के लिए 12 साल की बच्‍ची ने जुटाया था पैसा, बाढ़ राहत के लिए दान कर दिया

तमिलनाडू की रहने वाली एक लड़की ने अपने दिल की सर्जरी के लिए पैसा इकट्ठा किया था, लेकिन केरल में आए बाढ़ प्रभावित लोगों की सहायता के लिए उसका एक हिस्सा दान कर दिया।

Author Updated: August 23, 2018 2:08 PM
अक्षया ने दिल के इलाज के लिए जमा किए पैसे बाढ़ पीडि़तों की सहायता के लिए दान कर दिए (Photo: Twitter@Indiarealheroes)

केरल में करीब 100 सालों बाद विनाशकारी बाढ़ आयी है। 300 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। लाखों लोग बेघर हो गए। पानी उतरने के बाद भले ही लोग अपने घर वापस लौट रहे हैं, लेकिन जिंदगी सामान्य होने में महीनों लग जाएंगे। आपदा की इस घड़ी देश से लेकर विदेश तक के लोग केरल की मदद के लिए आगे अा रहे हैं। कहीं से फूड पैकेट भेजा जा रहा है तो कहीं लोग मुख्यमंत्री राहत कोष में पैसे जमा करवा रहे हैं। इस बीच तमिलनाडू के करूर जिले की एक 12 वर्षीय लड़की ने अपने दिल की सर्जरी के लिए इकट्ठा किए गए रुपये का एक हिस्सा बाढ़ पीडि़तों के लिए दान कर दिया। लड़की का नाम अक्षया है।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, अक्षया ने बताया कि, ” मैंने टीवी पर केरल की आपदा को देखा और उन लोगों के बारे में चिंतित हो गई, जो इससे प्रभावित हुए हैं। इनमें कई लोग बेघर हो गए थे। उन्हें बिना खाना और पानी के कई दिन गुजारने पड़े। मेरे जैसे कई बच्चे भी बाढ़ से प्रभावित थे। इसलिए मैंने अपने दिल के ऑपरेशन के लिए इकट्ठा की गई राशि का एक हिस्सा बाढ़ प्रभावित लोगों की सहायता के लिए दान करने का निश्चय किया। मैं निश्चिंत हूं कि कोई न कोई मेरी मदद जरूर करेंगे। अभी केरल के लोगों को सहायता की जरूरत है।”

अक्षया की मां ने इस बात की चर्चा अपने करीबी ए सादिक अली से की, जिन्होंने दिल के ऑपरेशन के लिए पैसे इकट्ठा करने में मदद की थी। अली उस समय से इस परिवार के संपर्क में हैं, जब इन्हें सोशल मीडिया के माध्यम से अक्षया के स्वास्थ्य की जानकारी हुई थी।  मंगलवार को अक्षया ने अपनी मां और सादिक अली के साथ जाकर केरल बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद के लिए चंदा इकट्ठा कर रहे स्वयंसेवी संगठन मक्कल पदई के एक पदाधिकारी को 5,000 रुपये दिए।

दरअसल, 7वीं कक्षा में पढ़ने वाली अक्षया को जन्म से ही दिल की बीमारी है। परिवार की आर्थिक स्थिति दयनीय है। कुछ साल पहले एक दुर्घटना में पिता की मौत हो गई थी। मां आंगनबाड़ी में अस्थायी कर्मचारी हैं। उनकी इतनी आय नहीं है कि वे महंगे इलाज का खर्च उठा सकें। ऐसे में इलाज के लिए उसके परिजन और जानने वाले क्राउड फंडिंग के माध्यम से पैसे इकट्ठा कर रहे हैं। पिछले साल अक्षया की पहली सफल सर्जरी हुई थी और दूसरी इस साल नवंबर महीने में होनी है। इसके लिए उसे 2.5 लाख रुपये की जरूरत है। लेकिन अभी तक मात्र 20 हजार ही इकट्ठा हो पाया है। इसमें से भी उसने पांच हजार बाढ़ प्रभावित लोगों की सहायता के लिए दान कर दिए।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 इन पांच मुश्किलों से खतरे में है आप और अरविंद केजरीवाल की राजनीति
2 केरल बाढ़ में केंद्र की भूमिका पर उठाए थे सवाल, संघ से जुड़ी पत्रिका ने हटाया संपादकीय
3 बंगाल: सोशल मीडिया पर वायरल की फर्जी तस्‍वीरें, नमाज के बाद परिवार पर हमला, 20 लोग घायल