ताज़ा खबर
 

George Fernandes: एंटी-इमरजेंसी के पोस्टर ब्वॉय, जिन्होंने Coca-Cola तक को बाहर का रास्ता दिखाया था

George Fernandes Death: 88 साल की उम्र में मंगलवार को जॉर्ज फर्नांडिस का निधन हो गया। जॉर्ज फर्नांडिस का जन्म 3 जून 1930 को मैंगलोर में हुआ था।

Author Updated: January 29, 2019 1:41 PM
जॉर्ज फर्नांडिस, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

88 साल की उम्र में मंगलवार को जॉर्ज फर्नांडिस का निधन हो गया। जॉर्ज फर्नांडिस का जन्म 3 जून 1930 को मैंगलोर में हुआ था। जॉर्ज फर्नांडिस भारतीय ट्रेड के यूनियन नेता थे साथ ही वो पत्रकार भी रहे थे। 1946 में परिवार ने उन्हें पादरी का प्रशिक्षण लेने के लिए बेंगलुरू भेजा गया लेकिन आजादी के साथ ही वो वहां से भाग गए। 1949 में वो बॉम्बे आ गए और ट्रेड यूनियन के मूवमेंट से जुड़ गए। 1950 से 60 के बीच उन्होंने बॉम्बे में कई हड़तालों की अगुआई की। बता दें कि जॉर्ज फर्नांडिस 1967 में दक्षिण बॉम्बे से कांग्रेस के एसके पाटिल को हराकर पहली बार सांसद बने। वहीं 1975 की इमरजेंसी के बाद जॉर्ज फर्नांडिस बिहार की मुजफ्परपुर सीट से जीतकर संसद पहुंचे थे।

2 बार बने रक्षा मंत्री: मोरारजी सरकार में जॉर्ज फर्नांडिस को उद्योग मंत्री का पद दिया गया था। इसके साथ ही उन्होंने वीपी सिंह सरकार में रेल मंत्री का भी पद संभाला। गौरतलब है कि वो 1998- 2001 और 2001- 2004 तक दो बार रक्षा मंत्री भी रहे। उनके ही कार्यकाल में कारगिल युद्द और पोखरण टेस्ट हुआ। 2004 में उन्होंने रक्षा मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया जब उन पर ताबूत घोटाला (कॉफिन गेट) के आरोप लगे। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें सभी ताबूत घोटाले से जुड़े सभी आरोपों से मुक्त कर दिया था। 1967 से 2004 तक जॉर्ज फर्नांडिस ने 9 लोकसभा चुनाव जीते। वहीं बतौर रक्षा मंत्री वो करीबन 30 बार सियाचिन ग्लेशियर का दौरा कर चुके थे।

‘फेरा’ में कोका कोला और आईबीएम को लपेटा: इंदिरा गांधी की सरकार के समय में एक फेरा कानून बना था। फेरा (FERA) यानी फॉरेन एक्सचेंज रेगुलेशन एक्ट। इस कानून के तहत कोई भी विदेशी कंपनी भारत में लगे किसी भी उद्योग में 40 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी नहीं रख सकती है। जॉर्ज फर्नांडिस ने इस कानून के तहत कई कंपनियों पर कार्रवाई करना शुरू करवाया। इससे परेशान होकर दो बड़ी कंपनियां जैसे आईबीएम और कोका कोला ने भारत में अपना व्यव्साय बंद कर दिया। इस बारे में 1998 में द इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में जॉर्ज फर्नांडिस ने कहा था कि वो एंटी एमएनसी (विदेशी कंपनियों के खिलाफ) नहीं हैं लेकिन प्रो स्वदेसी (देसी के समर्थन में) हैं। लोग कहते हैं कि मैंने कोका कोला को भगा दिया लेकिन मैंने कानून के दायरे में ही उनसे उनका फॉर्मूला पूछा था जिसको लेकर वो बेहद सीक्रेट रखते थे। गौरतलब है कि 2000 में हिंदुस्तान लीवर ने मॉर्डन फूड इंडस्ट्रीज को टेकओवर कर लिया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सोशल मीडिया पर राजस्थान पुलिस का रणवीर सिंह को ट्वीट हुआ वायरल, फिल्मी अंदाज में दिया जवाब
2 दिल्ली: बच्ची के अपहरण का आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे, कहा- बेटी का प्यार पाने के लिए करता था अगवा
3 कांग्रेस नेता का अनंत हेगड़े को चैलेंज, कहा- हिंदू लड़की को छुआ, जो कर सकते हो कर लीजिए
ये पढ़ा क्या...
X