मुफ्त पानी-बिजली के झांसे में आ गई दिल्ली की पब्लिक, बीजेपी को नहीं दिया वोट, आप को जिताया- बोले भाजपा सांसद गौतम गंभीर

पूर्वी दिल्ली से बीजेपी के सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने समाचार चैनल टाइम्स नाऊ को दिए इंटरव्यू में कहा कि दिल्ली की जनता मुफ्त पानी और मुफ्त बिजली के झांसे में आ गई।

Gautam Gambhir
बीजेपी सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर (फाइल फोटो)। इंडियन एक्सप्रेस

Gautam Gambhir on Arvind Kejriwal : पूर्वी दिल्ली से बीजेपी के सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने समाचार चैनल टाइम्स नाऊ को दिए इंटरव्यू में कहा कि दिल्ली की जनता मुफ्त पानी और मुफ्त बिजली के झांसे में आ गई। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) दिल्ली की जनता के बीच ‘फ्री’ का नैरेटिव बनाने में कामयाब रही। गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा कि दुनिया में कोई भी चीज आपको मुफ्त में नहीं मिल सकती है। जिस राशि का इस्तेमाल दिल्ली के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए इस्तेमाल करना था, उसको AAP ने मुफ्त बिजली और पानी के लिए खर्च किया। उन्होंने कहा कि इसी कारण दिल्ली के लोगों ने बीजेपी को वोट नहीं दिया। बीजेपी सांसद (Gautam Gambhir) ने पूछा, इसके अलावा केजरीवाल (Arvind Kejriwal) सरकार ने क्या किया, मोहल्ला क्लिनिकों का क्या हुआ?

दिल्ली में जलभराव पर जारी तकरार पर जब गौतम गंभीर से जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी की प्रमुख सड़कें दिल्ली सरकार के PWD के पास आती हैं, सिर्फ छोटी सड़कें निगमों के पास हैं। ऐसे में जलजमाव के लिए बीजेपी को जिम्मेदार बताकर अरविंद केजरीवाल सिर्फ अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब भी कोई जिम्मेदारी की बात आती है तो अरविंद केजरीवाल या तो केंद्र पर ठीकरा फोड़ देते हैं या निगमों को जिम्मेदार ठहरा देते हैं। उनकी खुद की जिम्मेदारी क्या है?

गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा कि जब दिल्ली कोविड से कराह रही थी तो केजरीवाल (Arvind Kejriwal) आइसोलेट हो गए थे, जब दिल्ली पानी में डूब रही थी तो आप विपाश्यना चले जाते हैं, क्या दिल्ली की जनता ने इसलिए उन्हें चुना था। दिल्ली एमसीडी में आज भी वहीं हालात हैं, लोगों को दर-दर भटकना पड़ता है, आपके इतने सालों के शासन से क्या बदलाव हुए, इस सवाल के जवाब में गंभीर ने कहा कि यह गलत दावा है, उन्होंने कहा कि आप मेरे संसदीय क्षेत्र में आइए और देखें कि किस तरह से सुधार किए जा रहे हैं।

पूर्व क्रिकेटर ने कूड़ा नहीं उठाए जाने के दावे को भी गलत करार दिया। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) दिल्ली की शिक्षा के लिए लड़ाई लड़ने का दावा करते हैं, लेकिन क्या कोई प्राइवेट स्कूल से निकालकर अपने बच्चों को दिल्ली के सरकारी स्कूल में पढ़ा सकता है।

गाजीपुर स्थित कूड़ाघर पर चर्चा करते हुए गंभीर ने बताया कि वह सात बार वहां का दौरा कर चुके हैं, उनकी कोशिशों के चलते उसकी ऊंचाई 40 से 50 फीट कम हो गई है। उन्होंने बताया कि अपने संसदीय क्षेत्र में उन्होंने यमुना स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स को अपग्रेड करके वर्ल्ड क्लास बनाया है। इसका उद्घाटन 10 सितंबर को करने जा रहे हैं।

दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा फैबीफ्लू टैबलेट पर उठाए गए सवालों पर गंभीर (Gautam Gambhir) ने जवाब देने से इनकार करते हुए कहा कि इस मामले पर मैं बात करना चाहता हूं लेकिन यह मामला कोर्ट में विचाराधीन है, इसलिए इस पर अभी कोई टिप्पणी करना सही नहीं होगा। उन्होंने कहा कि कोर्ट का जो भी आदेश होगा वह मान्य होगा। उन्होंने कहा कि अगर फैबीफ्यू टैबलेट से किसी एक भी जान बची है, तो वह बड़ी बात है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट