ताज़ा खबर
 

बेंगलुरु: EPF कानून में बदलाव के विरोध में भड़की हिंसा, 3 बसों में लगाई आग, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

नए बदलाव के तहत कर्मचारी अपने फंड में से सिर्फ अपना अंश ही निकाल सकते है।

Author बेंगलुरू | April 19, 2016 7:03 PM
प्रदर्शन के बाद जला हुआ वाहन। ( pic source- ani twitter account)

सरकार द्वारा कर्मचारी भविष्य निधि (PF) से पैसा निकालने से जुड़े नियमों में किए गए बदलाव के खिलाफ दूसरे दिन भी बेंगलुरु में विरोध प्रदर्शन जारी रहा। विरोध कर रही भीड़ धीरे-धीरे हिंसक हो गई और जालाहाली चौराहे पर तीन बसों को आग लगा दी गई। शहर के दूसरे हिस्से में पत्थराव की खबर भी सुनने में आई है। इस प्रदर्शन में पांच गार्मेंट फैक्ट्री के कर्मचारियों ने हिस्सा लिया था।

मंगलवार सुबह बड़ी तादाद में प्रदर्शनकारी बोम्मानाहाली जंक्शन पर इकट्ठा हुए।  प्रदर्शनकारियों की भीड़ के चलते आर्टियल हाउस रोड पर ट्रैफिक रुका रहा। यात्री वाहन फ्लाईओवर की नीचे घंटों खड़े रहे।  पुलिस ने भीड़ को रोकने के लिए बैरिकेट लगाए थे लेकिन प्रदर्शनकारी बैरिकेट तोड़ कर हाईवे पर पहुंच गए। भीड को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा साथ ही आंसू गैस के गोले दागने पड़े। उधर, इस विरोध पर्दशन के चलते शहर में कई दूसरी जगहों पर वाहनों की लंबी कतार लगी रही।

Read Also: PF का पूरा पैसा निकाल सकेंगे, कुछ शर्तों के साथ जुलाई तक के लिए सरकार ने दी छूट

नए बदलाव के तहत कर्मचारी अपने फंड में से सिर्फ अपना अंश ही निकाल सकते है। कंपनी के अंश को कर्मचारी 58 साल उम्र होने पर ही निकाल पाएंगे। गार्मेंट और टैक्सटाइल कंपनी में काम करने वाले एक कर्मचारी ने केंद्र सरकार के इस फैसले को कर्मचारियों के खिलाफ बताया है।

इस विवाद से जुड़े सभी पहलू जानने के लिए देखें…

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App